Jabalpur News: बिजली कंपनी ने तीन दिनों में एक लाख 80 हजार से अधिक राजस्व संग्रहण किया

Updated: | Sat, 31 Jul 2021 02:30 PM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। बिजली कम्पनियां तेजी से वसूली में जुट गई हैं। शिविर लगाए जा रहे हैं। लोक अदालत का अंदाज़ अपनाया जा रहा है। समझा रहे हैं। आकर्षक छूट का रास्ता अपनाए जाने पर बल दिया जा रहा है। कोविड काल में कम वसूली की क्षतिपूर्ति की जा रही है। अभियान रंग लाया रहा है। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा 26 जुलाई से शुरू की गई राजस्व संग्रहण एजेंट व्यवस्था के शुरूआती तीन दिनों में एक लाख 80 हजार रुपये से अधिक राजस्व संग्रहण किया गया।

योग माया ने 102 उपभोक्ताओं के बिजली बिल जमा कराए। इस व्यवस्था से बेरोजगारों को रोजगार मिला है। साथ ही कंपनी का राजस्व अर्जन का लक्ष्य भी पूरा हो रहा है। प्रबंध संचालक गणेश शंकर मिश्रा ने कहा कि ऐसे नागरिक, एजेंसी या संस्था जो इस योजना के तहत एजेंट के रूप में कंपनी को सेवा देना चाहते हैं, आगे आ सकते हैं। इससे दोहरा फायदा होगा। योगमाया सक्सेना ऐसी ही एजेंट हैं, जिन्होंने 102 उपभोक्ताओं से 89 हजार से अधिक के बिजली बिल जमा करवाने में सफलता हासिल की। उन्हें 505 रुपये कमीशन प्राप्त हुआ। नितिन माझी ने 11 उपभोक्ताओं से 63 हजार जमा करवाए। प्रवीण लोखंडे ने 14 उपभोक्ताओं से छह हजार जमा करवाए। माना जा रहा है कि यह व्यवस्था इतिहास रचेगी। इसीलिए इसे प्रोत्साहित किया जा रहा है।

पावर ट्रांसमिशन कंपनी के आठ कार्मिकों को उच्च वेतनमान का लाभ : मध्य प्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी लिमिटेड ने दो कार्मिक को नौ वर्षीय प्रथम विकल्प व छह कार्मिक को 30 वर्षीय तृतीय विकल्प के आधार पर उच्च वेतनमान स्वीकृत किया। इनके नाम हेमंत कुमार रैकवार, कमलेश कुमार मरावी, मनोज कुमार शुक्ला, ओमप्रकाश कुशवाहा, अनंत कुमार कुशवाहा, संतोष कुमार वर्मा, रामदीन व लक्ष्मीबाई हैं।

Posted By: Ravindra Suhane