Jabalpur News : पूजन सामग्री फेकें जाने से गंदगी से सराबोर हुआ हनुमानताल

Updated: | Sun, 17 Oct 2021 01:33 PM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। दुर्गोत्सव पर्व के बाद प्रतिमाओं के विसर्जन के दौरान फेंकी जा रही पूजन सामग्री से तालाब गंदगी से सराबोर हो गए हैं। तालाब में पूजन सामग्री फेकने के संबंध में नगर निगम द्वारा तालाबों के आस पास न तो किसी तरह के जागरूकता संदेश सूचक बैनर पोस्टर लगाए गए हैं न किसी तरह के अस्थाई कूड़ादान बनाएं गए हैं। जिसमें पूजन सामग्री को अलग से रखा जा सके। हालांकि नगर निगम की टीम सफाई कार्य मे जुटी है। लेकीन तालाबों में पूजन सामग्री, पालीथिन व अन्य सामग्री इतनी ज्यादा मात्रा में विसर्जित या यूं कहें फेंकी गई है कि उसे निकालने में निगम की टीम के भी पसीने छूट रहे हैं।

हनुमानताल का हर घाट गंदा : शहर के ऐतिहासिक तालाब हनुमानताल में ज्यादातर प्रतिमाओं का विसर्जन होता है। यही वजह है कि इसका हर घाट गंदगी व प्रतिमाओं के अवशेषों से अटा पड़ा है। गंदगी के चलते तालाब प्रदूषित हो रहा है।

अन्य तालाबों का भी यही हाल : हनुमानताल की तरह उपनगरीय क्षेत्र अधारताल, गोकलपुर, गंगासागर तालाब भी पूजन सामग्री से ओट गया है। दर्जनों की संख्या में यहां प्रतिमाओं का विसर्जन हुआ है। लोगों ने पूजन सामग्री के अलावा बड़ी मात्रा में पालीथिन, थर्माकोल आदि भी डाल दिया है। गंदगी के कारण लोग तालाब किनारे खड़े तक नहीं हो पा रहे हैं।

ये इंतजाम किए जाने चाहिए : जानकारों का कहना है कि नगर निगम को पहले से ही तालाबों के पास जागरुकता संदेश, स्लोगन लगाए जाने चाहिए थे। अस्थाई डस्टबीन रखे जाने चाहिए थे। ताकि श्रद्धालु तालाब में पूजन सामग्री ठण्डा कर उसमें रख सके।

Posted By: Brajesh Shukla