HamburgerMenuButton

Jabalpur News: माता-पिता हैं बच्चों का संसार

Updated: | Tue, 22 Jun 2021 09:51 AM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया रिपोर्टर। जिसका जीवन संघर्षों की प्रखर एक गाथा है, सचमुच में उस पिता के आगे झुक जाता माथा है। इन पंक्तियों के साथ पिता के महत्व को बताया गया। अवसर था अनेकांत संस्था द्वारा पितृ दिवस पर आयोजित काव्य संगोष्ठी का। जहां प्रेम, समर्पण, त्याग है वहां सफलता सुनिश्चित है।

माता-पिता प्रेम, समर्पण और त्याग की प्रतिमूर्ति हैं। इनसे ही बच्चों का संसार है। काव्य गोष्ठी में अध्यक्षता कर रहे डॉ.हरिशंकर दुबे ने इन बातों के साथ अपने विचार रखे। प्रमुख वक्ता राजेश पाठक प्रवीण, संस्था अध्यक्ष राजेन्द्र जैन रतन, संस्था निर्देशक डॉ.संध्या जैन श्रुति राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त शिक्षाविद व वरिष्ठ कवि राजेन्द्र मिश्रा ने कहा कि माता-पिता ही जीवन के संग्राम में पथ प्रदर्शक और पहले गुरुदेव हैं। एक पिता अपने मन में कितने ही संघर्षों के साथ रहता है लेकिन उनकी आंच कभी अपने बच्चों तक नहीं आने देता। पिता कभी अपनी बातों को सहजता से कहता नहीं। लेकिन उसके मन में हमेशा ही अपनी संतान के लिए ही सोच विचार चलता रहता है। बच्चों को चाहिए कि वे अपने पिता को समझें। उनका सम्मान करें। वर्तमान में स्थितियां बहुत ही नाजुक हैं। वृद्धाश्रम में बुजुर्गों की संख्या बढ़ती जा रही हैं।

वक्ताओं ने कहा कि कोरोना काल में ऐसे कई परिवार सामने आए जहां माता- पिता अकेले रहते हैं और बच्चे बाहर रहते हैं। कोरोना में ऐसे माता- पिता को अकेले काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। बच्चों में अपने पिता के प्रति सम्मान का भाव जगाने के लिए ही शायद पितृ दिवस का आयोजन किया जाता है। हमारी संस्कृति में तो हर दिन माता- पिता का है। पर जरूरी है कि लोग इन दिवसों से ही कुछ सीख ले लें। इस समारोह का सफल संचालन आशुतोष तिवारी व आभार प्रमोद दाहिया ने व्यक्त किया।

द्वितीय सोपान में आयोजित काव्यगोष्ठी में माता-पिता, गंगा और गायत्री के साथ विविध विषयों पर कवियों ने कविताओं की प्रस्तुति दी। कवियों में नलिन सूर्यवंशी ताज, अरूणा पांडे, संतोष नेमा संतोष, कमलेश नाहटा, नारायण तिवारी सिहोरा, प्रमोद दाहिया, सिहोरा,आशा जैन, सुषमा खरे, चंदादेवी स्वर्णकार, मनोज शुक्ल, प्रमोद तिवारी मुनि, संतोष दुबे,आई.पी गोस्वामी, मिथिलेश नायक,जी.एल. जैन ने रचनायें प्रस्तुत कीं|

Posted By: Ravindra Suhane
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.