Jabalpur News: कालोनी में मूलभूत सुविधा तक नहीं, पर कागजों में दिख रहीं

Updated: | Sat, 25 Sep 2021 11:02 AM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। गृह निर्माण सोसायटियों में सालों से लोग मूलभूत सुविधाओं के लिए मोहजात हैं। शहर में कई ऐसी गृह निर्माण सोसायटी हैं, जो मकान तो बना लिया गया है, लेकिन सड़क, नाली, प्रकाश, पानी और सफाई व्यवस्था है ही नहीं। यही हाल शहर के चांवनपुर और गंगानगर में बनी स्वल्प आय हितैषी गृह निर्माण सहकारी समिति का है। यहां रहने वाले लोग पिछले आठ साल से मूलभूत सुविधाओं के मोहताज हैं। कई बार निगम प्रशासन से लेकर स्थानीय राजनेताओं को इन असुविधाओं के बारे में बताया, लेकिन आठ साल बाद भी यहां के हालात नहीं बदले।

स्वल्प आय हितैषी गृह निर्माण सहकारी समिति के कार्यवाहक अध्यक्ष रमाकांत मिश्रा बताते हैं कि साढ़े सात एकड़ से ज्यादा एरिया में यह कालोनी बनी है, लेकिन यहां मकानों के सिवाए कुछ नहीं है। न सड़क है, न सफाई। यहां तक की पानी और प्रकाश व्यवस्था को लेकर अक्सर परेशानी बनी रहती है।

कागजों पर दे दी सारी सुविधाएं: मध्यप्रदेश नगर पालिका नियम 1998 के तहत उक्त कालोनी को विकास अनुमति मिली थी। कागजों पर तो सोसायटी में हर सुविधाएं थी, लेकिन हकीकत यह है कि यहां के लोग पिछले आठ साल से मूलभूत सुविधाओं के लिए मोहताज हैं। सीवरलाइन चोक है, जिसे ठीक करने के लिए क्षेत्रीय निगम कार्यालय से लेकर मुख्यालय तक शिकायत भेजी, लेकिन इसका आज तक समाध्ाान नहीं किया गया।

सड़कें टूटी, देखरेख के अभाव से बदहाल पार्क: क्षेत्रीयजनों का कहना है कि शहर से सोसायटी को जोड़ने वाली मुख्य सड़क से कालोनी के भीतर बनी सड़कें बदहाल हैं। हर तरफ से सड़क टूटी और गड्ढों से भरी है। सीवर लाइन चोक होने की वजह से सोसायटी में गंदगी फैली है। हर तरफ गंदा पानी भरा है, जिसमें डेंगू के मच्छर पैदा हो रहे हैं। यहां कागज पर दिखाने के लिए पार्क तो बना दिया गया, लेकिन देखरेख न होने की वजह से उसकी हालात दयनीय हो चुकी है। स्ट्रीट लाइन महीनों से बंद है।

कालोनी सेल को भेजी शिकायत, समाधान नहीं: कार्यवाहक अध्यक्ष श्री मिश्रा ने बताया कि समिति द्वारा कालोनी की समस्याओं के समाध्ाान के लिए कार्यपालन यंत्री कालोनी सेल नगर निगम को पत्र क्रमांक 135, 16 जून 2021 को लिखकर यहां पर मूलभूत सुविधाएं न होने की जानकारी दी और उसका जल्द से जल्द समाधान करने का निवेदन किया था, पर आज तक इनका समाधान नहीं हुआ। अब कालोनी वासियों ने इसके विरोध में आंदोलन करने का मन बनाया है।

Posted By: Ravindra Suhane