Medical College Hospital Jabalpur: मेडिकल के डाक्टर ने लिखा गन शाट इंज्यूरी, बेलखेड़ा पुलिस मानने तैयार नहीं कि गोली चली थी

Updated: | Thu, 21 Oct 2021 02:20 PM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कालेज अस्पताल के चिकित्सकों ने उपचार के दस्तावेज पर गन शाट इंज्यूरी तथा गंभीर चोट लिख दी, बावजूद इसके बेलखेड़ा पुलिस घटना को साधारण मान रही है। भैरोघाट बेलखेड़ा से पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे सरपंच पति शंकर सिंह ने यह आरोप लगाए हैं।

शंकर ने बताया कि स्थानीय बदमाशों ने उन्हें व उनकी सरपंच पत्नी खोबा बाई को 31 जुलाई की रात गोली मार दी थी। मेडिकल में उनका उपचार किया गया था। घटना के कई माह बीत जाने के बाद भी बेलखेड़ा पुलिस हमलावरों के खिलाफ हत्या के प्रयास की एफआइआर दर्ज नहीं कर रही है।

शंकर ने बताया कि 31 जुलाई की रात गांव में रहने वाले राजू सिंह, अरविंद सिंह, महेंद्र सिंह ने कट्टे से पत्नी खोबा व उसे गोली मार दी थी। पत्नी के हाथ तथा उसकी जांघ में गोली लगी थी। गोली मारने के साथ हमलावरों ने उन पर लाठियां भी बरसाई थीं। शंकर ने बताया कि हमलावरों को यह आशंका थी कि उसने गांव के नाई को उनके बाल काटने से रोक दिया है। 31 जुलाई की रात उसी बात को लेकर कहासुनी हुई थी। जिसके बाद उन पर हमला कर दिया गया था।

एक छर्रा पैर में फंसा: शंकर ने दो दिन पूर्व उस पैर का एक्सरे कराया जहां गोली लगी थी। एक्सरे फिल्म में गोली के छर्रे नजर आ रहे हैं। शंकर ने बताया कि पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण एसपीएस बघेल को उसने एक्सरे फिल्म दिखाया है। उसने यह भी कहा कि बेलखेड़ा पुलिस मेडिकल की रिपोर्ट को तवज्जो नहीं दे रही है। हमलावरों के खिलाफ साधारण धाराओं के तहत एफअाइआर की गई है।

Posted By: Ravindra Suhane