Medical In Jabalpur : नाले में बिछा दी आक्सीजन की पाइप लाइन, सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में यह क्या हो रहा

Updated: | Thu, 23 Sep 2021 04:45 PM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कालेज सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल परिसर में स्थापित आक्सीजन प्लांट से मरीजों में संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है। दरअसल, आक्सीजन प्लांट से वार्ड के बीच बिछाई गई पाइप लाइन बिलबिलाती नालियों में समा रही है। इस संबंध में क्षेत्रीय निवासी अरविंद पाठक ने मेडिकल प्रबंधन से शिकायत की है। उनका कहना है कि कोरोना काल में तमाम मरीज ब्लैक फंगस की चपेट में आए। जिसके लिए औद्योगिक आक्सीजन के उपयोग को जिम्मेदार ठहराया गया था। औद्योगिक क्षेत्र में उपयोगी आक्सीजन में शुद्धता का अभाव माना गया, जो कोरोना संक्रमित तमाम मरीजों में ब्लैक फंगस का कारण बताया गया था। मेडिकल के आक्सीजन प्लांट से गुजरने वाली पाइप लाइन गंदगी में समा रही है। उसी गंदगी से होकर पाइप लाइन वार्डों तक पहुंचाई गई है। नाले की गंदगी पाइप लाइन में समाने का खतरा बना हुआ है। हालांकि अधिकारियों का कहना है कि वार्ड में सप्लाई आक्सीजन की शुद्धता और गुणवत्ता का ध्यान रखा जाता है।

मेडिकल में कर्मचारियों को मिलेगा एनपीएस का लाभ : नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कालेज अस्पताल के कर्मचारियों को जल्द ही एनपीएस का लाभ दिया जाएगा। मेडिकल के डीन डा. प्रदीप कसार ने बताया कि स्वशासी समिति के अधीन कार्यरत समस्त चिकित्सा शिक्षकों व अन्य कर्मचारियों के मासिक मानदेय से एनपीएस अंशदान कटौती की जाती है। उक्त राशि बैंक में जमा है तथा संबंधित मद में सुरक्षित रखी गई है। शासन स्तर पर सभी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालयों के एनपीएस खाते को एकजाही किए जाने पर एनपीएस का लाभ देने के संबंध में उचित कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Brajesh Shukla