Nagar Nigam : व्यवस्थाओं को पटरी पर लाने आधा दर्जन संभागीय कार्यालयों में फेरबदल

Updated: | Thu, 16 Sep 2021 04:45 PM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। डेंगू, मलेरिया जैसी घातक बीमारियों से जूझ रहे शहर में लड़खड़ाई सफाई व्यवस्था को पटरी पर लाने प्रशासनिक कसावट जारी है। इसी कड़ी में निगमायुक्त ने नगर निगम के आधा दर्जन संभागों में फेरबदल कर संभागीय अधिकारियों को इधर से उधर किया है। इसमें संभागीय यंत्री और अतिक्रमण सहायक को भी संभागों की नई जिम्मेदारी सौंपी गई है।

इन्हें मिली जोन की कमान : निगमायुक्त संदीप जीआर द्वारा जारी पदस्थापना आदेश के तहत संभागीय यंत्री कृष्णकांत राव को अपने कार्य के साथ संभागीय अधिकारी का दायित्व सौंपा है। जबकि अतिक्रमण विभाग में सहायक अतिक्रमण अधिकारी सागर बोरकर को अपने कार्यों के साथ ही संभागीय कार्यालय चार की जिम्मेदारी सौंपी गई है। संभागीय यंत्री सत्येंद्र चक्रवर्ती को संभाग छह, एसके बबेले को संभाग नौ, चेतना चौधरी को संभाग 12 और संभागीय यंत्री सुदीप पटेल को संभाग 14 का संभागीय अधिकारी बनाया गया है।

16 संभाग हैं निगम में, ज्यादातर इंजीनियर के भरोसे : विदित हो कि नगर नगर निगम में 16 संभाग हैं। जिसमें अधिकांश में सहायक यंत्रियों को ही संभागीय कार्यालय की कमान भी सौंपी गई है। बताया जाता है कि वर्तमान में शहर की व्यवस्थाएं पटरी से उतर गई हैं। संभागीय कार्यालयों के तहत आने वाले वार्डों में न तो ठीक से सफाई हो रही है न सड़कों के गड्ढे भरे जा रहे हैं। डेंगू, मलेरिया के बढ़ते प्रभाव से हर घर में लोग बीमार है। लेकिन दवाओं व फागिंग मशीन से मच्छर मारने की दवाओं का छिड़काव कार्य भी नहीं हो पा रहा है। निगमायुक्त फेरबदल कर इसमें सुधार लाने में जुटे हैं।

Posted By: Brajesh Shukla