365 दिन में रेलवे ने दी 41,851 रेल कर्मचारियों को काम करने की सीख

विभिन्न विभागों के रेल कर्मचारियों को नियमों, कार्यप्रणाली के बारे में अप टू डेट रखने के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

Updated: | Fri, 27 May 2022 05:30 PM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। पश्चिम मध्य रेल द्वारा रेल कर्मचारियों की कार्यक्षमता में वृद्धि करने तथा विभिन्न विभागों के रेल कर्मचारियों को नियमों, कार्यप्रणाली के बारे में अप टू डेट रखने के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है। पश्चिम मध्य रेलवे के कार्मिक विभाग द्वारा वर्ष 2021-22 के दौरान मुख्यालय, तीनों मण्डलों (जबलपुर, भोपाल एवं कोटा) एवं दोनों कारखानों (भोपाल और कोटा) के कुल मिलाकर 41 हजार 851 अराजपत्रित रेल कर्मचारियों को बुनियादी प्रशिक्षण, रेफ्रेशर ट्रेनिंग, प्रमोशनल ट्रेनिंग दिया गया है। इसमें प्रमुख रूप से इंजीनियरिंग, विद्युत्, यांत्रिकी, परिचालन, वाणिज्य एवं अन्य विभागों इत्यादि को समय-समय पर ट्रेनिंग सेंटर्स पर प्रशिक्षण के लिए भेजा जाता है।

इनिशियल ट्रेनिंग

रेलवे में भर्ती के उपरांत रेल कर्मचारियों को विभाग से सम्बंधित शुरुआती कार्यप्रणाली के लिए प्रारंभिक प्रशिक्षण दिया जाता है। पश्चिम मध्य रेल ने वर्ष 2021-22 में प्रारंभिक प्रक्षिशण के तहत कुल 4794 रेल कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी गई।

प्रमोशनल ट्रेनिंग:

रेलवे में विभागीय पदोन्नति के उपरांत रेल कर्मचारियों को पदोन्नति प्रशिक्षण दिया जाता है। पश्चिम मध्य रेल ने वर्ष 2021-22 में पदोन्नति प्रशिक्षण के तहत कुल 4680 रेल कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी गई।

रेफ्रेशर ट्रेनिंग:

रेलवे के कुछ महत्वपूर्ण विभागों जैसे परिचालन में सहायक स्टेशन मास्टर, गार्ड , वाणिज्य विभाग में आरक्षण, बुकिंग, पार्सल एवं टिकट चैकिंग, इलेक्ट्रिकल में लोको पायलट एवं इंजीनियरिंग में ट्रैकमैनों इत्यादि के रेल कर्मचारियों को समय-समय रेफ्रेशर कोर्स का प्रशिक्षण दिया जाता हैं। पश्चिम मध्य रेल ने वर्ष 2021-22 में रेफ्रेशर कोर्स प्रशिक्षण के तहत कुल 1654 रेल कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी गई।

स्पेशलाइजेशन ट्रेनिंग:

रेलवे के कुछ सवेदनशील चिकित्सा, सरंक्षा एवं सुरक्षा इत्यादि की दृष्टि से विशेष प्रकार का विभागीय प्रशिक्षण दिया जाता है। पश्चिम मध्य रेल ने वर्ष 2021-22 में स्पेशलाइजेशन प्रक्षिशण के तहत कुल 8676 रेल कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी गई।

अदर्स ट्रेनिंग:

पश्चिम मध्य रेल ने वर्ष 2021-22 में संरक्षा से जुड़े प्रशिक्षण, फ़र्स्ट एड, कर्मयोगी, कम्यूनिकेशन स्कील बढ़ाने और विभागीय परीक्षाओं की तैयारी इत्यादि से संबंधित अन्य प्रशिक्षण के तहत कुल 22047 रेल कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी गई।

Posted By: Mukesh Vishwakarma
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.