रानी दुर्गावती विवि ने ओपन बुक एग्जाम में शामिल 162 छात्रों की परीक्षा निरस्त की

Updated: | Mon, 27 Sep 2021 11:51 AM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। रानी दुर्गावती विवि ने ओपन बुक एग्जाम में शामिल 162 छात्रों की परीक्षा निरस्त कर दी है। छात्र गलत ग्रुप चयन कर परीक्षा में शामिल हो गए थे। विश्वविद्यालय की विद्या परिषद में इस मामले पर निर्णय हुआ। सदस्यों ने सभी विद्यार्थियों की परीक्षा निरस्त करने का फैसला किया। इन छात्रों में एमए इतिहास, संस्कृत उत्तराद्र्ध के छात्र शामिल हैं। ये सभी छात्र प्राइवेट परीक्षार्थी हैं।

ऐसे हुई गलती: प्रीवियस में जो विषय होता है उसे फाइनल में बदलना पड़ता है। लेकिन छात्रों ने प्रीवियस में लिए गए विषय को ही फाइनल में भर दिया गया। आमतौर पर छात्रों ने या तो किसी के द्वारा फार्म भरवाए या कियोस्क सेंटरों में जाकर उनके बताए अनुसार भर दिया गया। वहीं कुछ ने बिना जानकारी लिए ही विषय भर दिए गए। वहीं कालेज ने भी लापरवाही की। छात्रों के आवेदनों को बिना जांचे आगे बढ़ा दिए। जबकि संबंधित विषय के शिक्षकों को इसकी जांच करनी थी लेकिन ऐसा नहीं किया गया।

फिर से देनी होगी परीक्षा: हालांकि विश्वविद्यालय प्रशासन ने ऐसे छात्रों के भविष्य को देखते हुए एक अवसर दिए जाने का निर्णय लिया गया है। जल्द ही इन छात्रों के लिए विशेष अवसर के माध्यम से परीक्षा ली जाएगी ताकि उनका साल बरबाद न हो। इसकी तैयारी विवि प्रशासन द्वारा शुरू कर दी गई है। संभवत: अगले माह के प्रथम सप्ताह परीक्षा कार्यक्रम तय किया जा सकता है।

------------------

-छात्रों द्वारा गलत ग्रुप का चयन किया गया था जिसके कारण उनकी परीक्षा निरस्त कर दी गई है। ऐसे छात्रों के लिए द्वितीय अवसर प्रदान किया जाएगा। परीक्षा को लेकर कार्ययोजना तैयार की जा रही है।

-प्रो. एनजी पेंडसे, परीक्षा नियंत्रक रादुविवि

Posted By: Ravindra Suhane