Rani Durgavati University: परीक्षा दे चुके अब नतीजों के इंतजार हजारों विद्यार्थी

Updated: | Mon, 20 Sep 2021 02:31 PM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। परीक्षा के बाद विद्यार्थी नतीजों को लेकर परेशान है। रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय में इन दिनों परिणाम घोषित करने के लिए विद्यार्थी चक्कर लगा रहे हैं। कुछ विषयों के नतीजे आ गए है तो उनकी अंकसूची अटकी हुई है। बीएड और एलएलबी जैसे विषयों के विद्यार्थियों को सबसे ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। प्रशासन ने स्नातक स्तर पर कई विषयों का परीक्षा के बाद मूल्यांकन कार्य पूरा नहीं करवाया है जबकि देरी के लिए जिम्मेदारी रिजल्ट बनाने वाली निजी फर्म पर डालकर बचने का प्रयास किया जा रहा है।

क्या हैं मामला: रान दुर्गावती विश्वविद्यालय में स्नातक सभी विषय प्रथम, द्वितीय वर्ष, स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर नियमित और सभी स्वाध्यायी स्नातक और स्नातकोत्तर की परीक्षा का आयोजन तो कर लिया है लेकिन अभी तक नतीजे जारी नहीं किए है। सहायक कुलसचिव सुनीता देवड़ी ने बताया कि मूल्यांकन कार्य पूरा हो चुका है। एक सप्ताह के भीतर अधिकांश नतीजों को जारी कर दिया जाएगा। इधर सूत्रों का कहना है कि मूल्यांकन का कार्य स्थानीय स्तर पर पर करवाने की वजह से देरी हो रही है। प्रशासन ने मूल्यांकन का कार्य विक्रेद्रीकृत नहीं किया है। जबलपुर के अलावा अन्य जिलों में भी यदि मूल्यांकन कार्य करवाया जाता तो शायद समय पर नतीजे जारी हो सकते थे। कोरोना संक्रमण की वजह से स्थानीय स्तर पर भी शिक्षक डरते हुए मूल्यांकन कार्य कर रहे हैं। दरअसल इससे पहले तक विश्व विद्यालय पूरे प्रदेश के परम्परागत विश्वविद्यालयों में नतीजे घोषित करने में अव्वल था लेकिन इस बार मूल्यांकन का कार्य समय पर नहीं होने के कारण देरी हो रही है।

अंकसूची के लिए भी परेशानी: बीएड और एलएलबी अंतिम वर्ष के विद्यार्थी रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय से अंकसूची पाने के लिए बेताब है। कई शिक्षकों को अंकसूची अपने विभागों में देनी है लेकिन अंकसूची नहीं मिल रही है। बताया जाता है कि निजी फर्म को अंकसूची बनाने का ठेका दिया गया है उसके पास से अंकसूची बनकर नहीं आई है। इस वजह से छात्रों को समय पर अंकसूची नहीं मिल पा रही है।

Posted By: Ravindra Suhane