HamburgerMenuButton

Jabalpur Lokayukta News: रिश्वतखोरों को पकड़़वाने में बनता था पंचसाक्षी, खुद भी रंगे हाथ पकड़ा गया

Updated: | Thu, 26 Nov 2020 09:29 AM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। जो रिश्वतखोरों के खिलाफ कार्रवाई में लोकायुक्त की तरफ से पंचसाक्षी बनता था, वह स्वयं रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया। बात हो रही है कटनी में ग्रामीण यांत्रिकी सेवा आरइएस के एसडीओ अजय कुमार सिंगौर की जो बीते सोमवार को एक ठेकेदार से 50 हजार रुपये रिश्वत लेते हुए जबलपुर से पहुंची लोकायुक्त टीम ने रंगे हाथ गिरफ्तार किए गए थे। स्वयं के खिलाफ हुई कार्रवाई से पूर्व एसडीओ सिंगौर रिश्वखोरी व आय से अधिक संपत्ति के मामले में कुछ आरोपितों के खिलाफ की गई कार्रवाई में लोकायुक्त की तरफ से पंचसाक्षी बने थे। लोकायुक्त की शब्दावली में पंचसाक्षी किसी अन्य विभाग का राजपत्रित अधिकारी होता है जो किसी कार्रवाई के दौरान मौके पर मौजूद रहकर लोकायुक्त की तरफ से कोर्ट में सरकारी गवाह बनता है। जानकारों का कहना है कि जबलपुर के लोकायुक्त के इतिहास की संभवत: यह पहली घटना है जब कोई पंचसाक्षी रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया।

यह है मामला: विजयनगर जबलपुर निवासी अजय कुमार सिंगौर आरइएस कटनी में एसडीओ हैं। संजय नगर निवासी रवि कुमार ठेकेदार हैं जिन्होंने आरइएस की योजना के अंतर्गत तालाब के निर्माण का ठेका लिया था। तालाब निर्माण के पांच लाख रुपये के भुगतान के एवज में सिंगौर ने ठेकेदार से एक लाख 25 हजार रुपये रिश्वत मांगी थी। जिसकी पहली किश्त के पचास हजार रुपये लेते हुए लोकायुक्त टीम ने माधवनगर गेट कटनी स्थित एक रेस्टारेंट में रंगे हाथ दबोच लिया था।

मिले 12.79 लाख नकद, बैंक खातों की जांच: लोकायुक्त डीएसपी दिलीप दिलीप झरवड़े ने बताया कि सिंगौर के विजयनगर स्थित आवास पर दबिश देकर आय से अधिक संपत्ति का पता लगाया जा रहा है। अब तक चली जांच में 12 लाख 79 हजार रुपये नकद, करीब दो लाख रुपये कीमती आभूषण जब्त किए गए हैं। सिंगौर के घर से मिले बैंक खातों, बीमा पॉलिसी की जांच कराई जा रही है। उसके आलीशान मकान की कीमत का आंकलन करने के लिए लोक निर्माण विभाग की मदद ली जा रही है। सूत्रों का कहना है कि सिंगौर के मकान की अनुमानित लागत पचास लाख रुपये ज्यादा है।

Posted By: Ravindra Suhane
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.