इंस्टीट्यूट इनोवेशन काउंसिल से जबलपुर के रानी दुर्गावती विवि को थ्री स्टार रेटिंग

Updated: | Sun, 05 Dec 2021 07:05 AM (IST)

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। इंस्टीट्यूट इनोवेशन काउंसिल की ओर से इनोवशन की श्रेणी में रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय को थ्री स्टार रेटिंग प्रदान की गई है। देश भर के विश्वविद्यालयों की जारी रिपोर्ट में परांपरागत विश्वविद्यालयों में रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय को सबसे पहला स्थान प्राप्त हुआ है। इनोवेशन की श्रेणी में सेन्ट्रल रीजन जोन में 3 स्टार रैकिंग प्रदान की गई है।

इस श्रेणी में विश्वविद्यालय का श्रेष्ठ प्रदर्शन रहा है। काउंसिल की ओर से सबसे न्यूनतम 1 स्टार और सबसे अधिक 4 स्टार संस्थानों को दिया गया है। दूसरे स्थान पर इंदौर का देवी अहिल्या बाई विश्वविद्यालय है जिसे एक स्टार दिया गया है। सरकारी विश्वविद्यालयों रादुविवि को पहले पायदान पर आने पर विश्वविद्यालय प्रशासन ने खुशी जताई है। बताया जाता है परिषद के माध्यम से विश्वविद्यालय में अध्ययनरत छात्र-छा९ाओं को इनोवेशन से संबंधित जानकारियां एवं सुविधाओं प्रदान करने का आंकलन किया जाता है। रादुविवि कुलपति प्रो. कपिल देव मिश्र ने सरकारी विवि में पहले पायदान पर आने पर खुशी व्यक्त की है।

उन्होंने बताया कि परिषद के माध्यम से रादुविवि द्वारा वर्ष 2020-21 में इंस्टीट्यूट इनोवेशन काउंसिल द्वारा निर्धारित मानपदंडों के अनुसार विभिन्न गतिविधियां में उल्लेखनीय प्रदर्शन किया जिसके आधार पर रैंक दी गई।

सेवानिवृत्त हुए शिक्षकों को नहीं मिल रहा भुगतान:

शिक्षा विभाग से सेवानिवृत्त होने के साथ शिक्षकों को विभाग पराया समझ लेता है। उन्हें सेवानिवृत्ति के बाद मिलने वाले देयकों को लेकर परेशान होना पड़ता है। परेशान शिक्षकों ने अब 7 दिसंबर को आंदोलन करने का निर्णय लिया है। राज्य शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष नरेन्द्र त्रिपाठी ने विभाग की इस नीति में सुधार की मांग करते हुए कहा कि जबलपुर जिले के ऐसे अनेक शिक्षक है जिन्हें सेवानिवृत्त होने या मृत होने पर आश्रित परिवार को एनपीएस योजना के तहत हुई कटौती की राशि का न तो अंश ही मिल रहा न नियमानुसार पेंशन। राज्य शिक्षक संघ जबलपुर ने इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी को अल्टीमेटम दिया है।

Posted By: Ravindra Suhane