खरगोन में हिंदू संगठनों की रैली पर पथराव, मची अफरा-तफरी, दुकानें हुई बंद

Updated: | Sat, 25 Sep 2021 04:48 PM (IST)

खरगोन, नईदुनिया प्रतिनिधि। खरगोन के बीटीआई मार्ग स्थित डाइड परिसर कार्यालय में शुक्रवार रात को गोवंश के अवशेष मिले थे। इसके बाद हिन्दू संगठनों और शिवसेना ने इस मामले में गोवंश हत्या की आशंका जताई। पुलिस से इस मामले में आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग को लेकर शनिवार को विरोध स्वरूप में बावड़ी बस स्टैंड से रैली निकाली। जो राधावल्लभ मार्केट, पोस्ट आफिस, एमजी रोड होते हुए जिला सहकारी बैंक के सामने पहुंची थी। इस दौरान बस स्टैंड के समीप पेट्रोल पंप के पास पथराव की घटना हुई। इस दौरान गैरेज खोलकर बैठे दो युवक घायल हो गए। इसके बाद रैली में अचनाक अफरा-तफरी मच गई। अफरा-तफरी को देखते हुए पुलिस हरकत में आई।

भीड़ को हटाने के लिए हल्का बल भी प्रयोग किया। इस घटना के बाद देखते ही देखते दुकानें बंद होने लगीं। दोपहर दो बजे तक पूरा शहर की बंद हो गया था। सड़कों पर आवाजाही जारी रही। इसके बाद सकल हिंदू समाज ने घटना को लेकर आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम कार्यालय में अपर कलेक्टर बीएस सोलंकी को ज्ञापन सौंपा। सोलंकी ने कहा कि आरोपितों के सख्त कार्रवाई की जाएगी। पुलिस मामले की जांच कर रही है। इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुए वीडियो इस घटना के बाद इंटरनेट मीडिया पर संबंधित घटनाक्रम से जुड़े वीडियो वायरल हुए।

अफवाहों और भ्रमित जानकारी को रोकने के लिए खरगोन पुलिस ने भी ट्वीट कर नागरिकों से भ्रामक अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पूरी स्थिति नियंत्रण में है। इस दौरान एएसपी जितेंद्र सिंह पंवार, डा. नीरज चौरसीया, एसडीओपी रोहित अलावा, तहसीलदार आरसी खतेड़िया, थाना प्रभारी प्रकाश वास्कले सहित अन्य पुलिसकर्मी और अधिकारी मौजूद थे।

Posted By: Prashant Pandey