सीएम शिवराज ने कहा, अब हर साल पातालपानी में लगेगा बड़ा मेला

Updated: | Sat, 04 Dec 2021 03:27 PM (IST)

महू। आदिवासी नायक टंट्या भील की बलिदान दिवस पर पातालपानी में बड़ा आयोजन किया गया। यहां राज्यपाल मंगू भाई पटेल और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान करीब सवा बारह बजे हेलीकाप्टर से पहुंचे। उन्होंने सबसे पहले कालका माता और टंट्या भील के मंदिर में पूजा की और इसके बाद पातालपानी के नजदीक बनाए जा रहे स्मारक परिसर में टंट्या भील की नई मूर्ति का अनावरण किया।

मुख्यमंत्री के साथ भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा मंत्री उषा ठाकुर पहुंचे। मुख्यमंत्री ने यहां आदिवासी और गरीब समाज के बेहतरी के लिए अभियान शुरू करने की बात कही। उन्होंने पातालपानी क्षेत्र में करीब चार करोड़ 55 लाख रुपए की लागत से पांच विकास कार्य शुरू करने की योजना के बारे में भी बताया। इसके तहत यहां टंट्या आराधना केंद्र, यहां आने वाले लोगों के बैठने के लिए व्यवस्था भी की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस क्षेत्र को टंट्या भील स्मारक के रूप में पहचान दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि अब हर बार 4 दिसंबर को पातालपानी में मेला लगाया जाएगा।

अपने भाषण के दौरान मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पर जबरदस्त हमला बोला। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से अब तक एक ही परिवार के लोगों को ही सम्मान दिया गया लेकिन अब भारतीय जनता पार्टी की सरकार हर समाज जाति के नायकों को सम्मानित करेगी। उन्होंने इस दौरान प्रथम प्रधानमंत्री पंडित नेहरू इंदिरा गांधी का नाम भी लिया। स्वतंत्रता प्राप्ति के लिए प्राण देने करने वाले जनजाति नायकों के लिए भारतीय जनता पार्टी ने सम्मान दिया है। इस कार्यक्रम में टंट्या भील के कई स्वजन भी मौजूद रहे जिनका मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने सम्मान किया। आदिवासियों ने टंट्या भील की कई तस्वीरें मुख्यमंत्री को भेंट की। मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के बाद बड़ी संख्या में जयस संगठन के लोग भी यहां पहुंचे। इन लोगों ने कहा मुताबिक यह उनके नायक का बलिदान दिवस है और इसीलिए यहां आए हैं।

Posted By: Prashant Pandey