Morena Panchayat Election Voting 2022: मतपत्रों पर पहले से ही मुहर लगी देख वोटर भड़के, अधिकारी बोले-सरपंच प्रत्याशी ने लगाई

अधिकारियों ने जांच कर पुर्नमतदान और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई पर निर्णय लेने की बात कही है।

Updated: | Sat, 02 Jul 2022 10:46 AM (IST)

-पीठासीन अधिकारी बाहर खड़े सरपंच प्रत्याशी अमित कंषाना का लेकर भी आए

हरिओम गौड़ , मुरैना नईदुनिया। पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में मुरैना ब्लाक की दीखतपुरा ग्राम पंचायत में जब मतदाता वोट डालने पहुंचे तो मतपत्रों की गड्डी पर पहले नंबर पर संरपंच प्रत्याशी के चुनाव चिह्न पर मुहर लगी मिली। हंगामे के बाद पूछताछ शुरू हुई तो वहां बैठे अधिकारी बाहर खड़े प्रत्याशी अमित कंषाना काे अंदर लेकर आए और कहा कि इन्होंने ही जबरन सभी मतपत्रों पर मुहर लगाई है। नईदुनिया के कैमरे में कैद हुए इस मामले को अधिकारियों के संज्ञान में भी लाया गया है। अधिकारियों ने जांच कर पुर्नमतदान और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई पर निर्णय लेने की बात कही है।

नईदुनिया संवाददाता मतदान के कवरेज के लिए दोपहर 2 बजे के करीब दीखतपुरा ग्राम पंचायत के मतदान केंद्र 68 प्राइमरी बालक शाला में पहुंचा तो वहां एक मतदाता वोट डालने पहुंचा। मतदानकर्मियों ने जिला पंचायत सदस्य, जनपद सदस्य व वार्ड मेंबर के तीन मतपत्र दिए तो युवक ने सरपंच का मतपत्र भी मांगा। इसके बाद मतदानकर्मी सत्यभानू (शिक्षक) ने सरपंच प्रत्याशियों का मतपत्र दे दिया। पंचायत में सरपंच पद के लिए पांच प्रत्याशी मैदान में हैं। युवा मतदाता जब मुहर लगाने गया तो देखा कि मतपत्र में पहले नंबर पर दर्ज सरपंच प्रत्याशी के चुनाव चिन्ह चश्मा पर पहले से ही मुहर लगी हुई है। उसने आपत्ति जताई। वहीं नईदुनिया संवाददाता ने जब मतदानकर्मी सत्यभानू के पास मौजूद मतपत्रों की गड्डी देखी तो पहले नंबर के प्रत्याशी के चुनाव चिन्ह चश्मा पर पहले से ही मुहर लगी थी। वहां पहुंचे अन्य मतदाताओं ने बताया कि उन्हें सरपंच प्रत्याशियों का मतपत्र दिया ही नहीं गया।

पीठासीन अधिकारी बोले- सरपंच प्रत्याशी अमित कंषाना ने लगाई सील: शिक्षक सत्यभानू से पूछताछ की तो वह सिर झुकाकर बैठ गए। वहीं पीठासीन अधिकारी केदार बोले कि जो बाहर खड़ा है उसने ऐसा किया और बाहर खडे़ सरपंच पद के प्रत्याशी अमित कंषाना को लेकर आए। सबके सामने कहा कि इसने गड्डी जबरन लेकर सब पर सील लगाई है। यह सुनकर सरपंच प्रत्याशी पहले तो बगले झांकने लगा, फिर कहने लगा कि उसने ऐसा नहीं किया। यह सुनकर अन्य कर्मचारी भी बोले कि सरपंच प्रत्याशी ने ही ऐसा जबरन किया है।

यह मामला बेहद गंभीर है। आप इसे मुरैना कलेक्टर को बताइए, मैं भी इस मामले में उनसे बात करता हूं।

आरके मिश्रा, चुनाव आयोग द्वारा नियुक्त प्रेक्षक

ऐसा हुआ है तो गलत है। इस मामले में री-पोलिंग करवाई जाए या नहीं, इसे लेकर आरओ से बात करेंगे। आप आरओ अजय शर्मा को यह जानकारी दे दीजिए।

एलके पांडेय, उप जिला निर्वाचन अधिकारी, मुरैना

Posted By: vikash.pandey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.