वीडियो : रतलाम में दुकान पर सट्टे के रुपयों के विवाद में फायर, टीआइ सहित तीन निलंबित, आरोपित का मकान तोड़ा

रतलाम में रंजिश में युवक ने किए तीन फायर, किसी को नहीं लगी गोली

Updated: | Fri, 21 Jan 2022 08:45 PM (IST)

रतलाम। माणक चौक थाना क्षेत्र के हरदेव लाला पिपली चौराहा से लगे भाटो का वास क्षेत्र में नमकीन की दुकान (हाथ ठेला) पर दो साथियों के साथ आये एक युवक ने दनादन तीन फायर किए। इससे दुकान का शोकेस और नमकीन की बरनी क्षतिग्रस्त हो गई। गोली किसी को नहीं लगी। गोली चलने की घटना से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। गोली दो दिन पहले दुकानदार और एक युवक के बीच हुए विवाद को लेकर चलना बताया जा रहा है।

देर रात पुलिस और प्रशासन के दल ने गोली चलाने वाले मुख्य आरोपित अकबर हुसैन के हाट रोड गली नम्बर एक मे स्थित मकान को तोड़ने की कार्रवाई शुरू कर दी। क्षेत्र में भारी पुलिस बल लगाया गया है और जेसीबी की मदद से मकान तोड़ने की कार्रवाई की गई। कार्रवाई देखने के लिए मौके पर भारी भीड़ जमा हो गई थी। इसके साथ ही बालाजी नमकीन के ठेले को भी पुलिस ने तोड़ दिया। इसके संचालक पर फायर किया गया था।

कार्य मे लापरवाही बरतने पर एसपी गौरव तिवारी ने माणकचौक टीआइ दिलीप राजोरिया, बीट प्रभारी (एसआइ) निशा चौबे व एएसआइ दिनेश मावी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। उन्होंने बताया कि आरोपितों पर प्रकरण दर्ज कर उनकी तलाश की जा रही है।

क्षेत्रवासियों के अनुसार शुक्रवार शाम करीब सवा पांच बजे भाटों का आवास क्षेत्र में घर के सामने हाथ ठेला लगाकर नमकीन बेचने वाला दुकानदार दुकान पर था। तभी एक युवक आया और उसने दूर से तीन फायर किए।

गोलियां शोकेस और कांच की बर्नियों पर जाकर लगी। इससे नमकीन बिखर गया गोली चलाने के बाद युवक भाग निकला। कुछ ही देर में मौके में लोगों की भीड़ जमा हो गई। सूचना मिलने पर एसपी गौरव तिवारी, सीएसपी हेमंत चौहान, माणक चौक टीआइ दिलीप राजोरिया, स्टेशन रोड टीआइ किशोर पाटन वाला व अन्य मौके पर पहुंचे।

क्षेत्र के लोगों में घटना को लेकर आक्रोश देखा गया। उन्होंने पुलिस अधिकारियों को बताया कि क्षेत्र में बड़े पैमाने पर सट्टा होता है और बाहर के लोग आकर सट्टा करते हैं। इस कारण यहां आए दिन विवाद होते रहते हैं।दो दिन पहले भी विवाद हुआ था लेकिन पुलिस ने सख्त कार्रवाई नहीं की। इसी के कारण आज यह गोली चलने की घटना हुई है। सट्टे की खाईवाली के चलते क्षेत्र में दिनभर भीड़ लगी रहती है व लोगों को आवागमन में भी परेशानी होती है। ऐसा लगता है कि इस गली का नाम सट्टा गली रख दिया जाए। अगर 24 घंटे में कार्रवाई नहीं की गई और क्षेत्र में सट्टा बंद नहीं हुआ तो क्षेत्रवासी आंदोलन करेंगे।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay