HamburgerMenuButton

International Womens Day Special: कोरोना संक्रम‍ित मरीजों की सेवा के लिए स्वजन से बनाई दूरी

Updated: | Sun, 07 Mar 2021 07:39 PM (IST)

International Women's Day Special: रतलाम (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना महामारी के बीच मेडिकल कालेज के कोविड केयर सेंटर मे डाक्टर और नर्सिंग स्टाफ बिना थके मरीजों की सेवा में लगे हैं। कई ऐसे कर्मचारी भी हैं, जिन्होंने कोविड ड्यूटी के चलते अपने स्वजनों से भी दूरी बना ली है। आइसीयू वार्ड में गत 11 महीने से मरीजों की देखरेख कर रही आया ममता रारोटिया भी नियमित सेवा दे रही हैं।

महामारी के प्रारंभिक दौर में जब ज्यादातर चीजें नकारात्मक ही चल रही थी। डाक्टर या स्वास्थ्यकर्मी ड्यूटी पर जाते थे तो परिवार और शुभचिंतकों को कई तरह की चिंता होती थी। ऐसे में भी एक महिला आया के रुप में सेवा से पीछे नहीं हटी। ममता का कहना है कि कोविड केयर सेंटर या के डाक्टर, स्वास्थ्यकर्मी किसी सैनिक से कम नहीं है।

वार्ड में बहुत एहतियात के साथ जाना पड़ता है। जिस वायरस से पूरी दुनिया डरी हुई थी, उससे मेरा डरना भी स्वभाविक था, लेकिन डाक्टर व स्वास्थ्यकर्मियों की सेवा देखकर डर नहीं लगा। कोविड के मरीजों की सेवा अपने स्वजनों की तरह कर रही हूं। इस बीच अपने स्वजनों से दूरी बनाया और अभी तक किसी आयोजन में भी नहीं जा रही हूं। मुझे इस बात का संतोष है कि कठिन समय में सेवा का मौका मिला। इन सब चुनौतियों के बावजूद मरीजों से जो आर्शीवाद मिलता है वह काफी शक्ति देता है।

मेडिकल कालेज के अधीक्षक डा. जितेंद्र गुप्ता बताते हैं कि आया ममता की सेवा से सभी मरीज खुश रहते है। आइसीयू वार्ड में गंभीर मरीजों को नाश्ता, खाना, दवाई जैसी हर सेवा में अपने परिवार के सदस्यों की तरह ख्याल रखती हैं।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.