HamburgerMenuButton

Ratlam News: रतलाम में होमगार्ड विभाग का प्रभारी अकाउंटेंट 500 रुपये की रिश्वत लेते पकड़ा गया

Updated: | Thu, 17 Jun 2021 06:13 PM (IST)

रतलाम, Ratlam News। लोकायुक्त उज्जैन टीम ने होमगार्ड के डिस्ट्रिक्ट कमांडेंट कार्यालय में पदस्थ प्रभारी अकाउंटेंट (एएसआई एम) जितेंद्र पांडे को कार्यालय में पदस्थ रहे लांस नायक स्व. नानालाल जाट निवासी ग्राम ढिकवा के पुत्र राकेश जाट से 500 रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा। उसके खिलाफ भ्र्ष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। राकेश ने बताया कि उसके पिता की तीन माह पहले तबीयत खराब हो गई थी। उन्हें पहले रतलाम मेडिकल कालेज में भर्ती कराया था। तबीयत में सुधार नहीं होने पर बड़ौदा के एक निजी अस्पताल ले जाकर भर्ती कराया था जहां 28 फरवरी 2021 को उनका निधन हो गया था। 15 दिन पहले अकाउंटेंट जितेंद पांडे का फोन आया कि आपके आपके पिता की संचित निधि व कोरोना भत्ता के रुपये आपकी मां के खाते में आने वाले है। तीन हजार रुपये उन्हें दे देना। नहीं तो अनुकम्पा नियुक्ति में भी परेशानी आएगी। उसने कहा कि रुपए आने पर वह दे देगा।

दस दिन पहले मां के खाते में 1.99 लाख रुपये संचित निधि के जमा हुवे। तो राकेश ने कार्यालय के पास आकर हनुमान मंदिर पर जितेंद्र पांडे को दो हजार रुपये दिए। जितेंद ने एक हजार की मांग करते हुए कहा कि कोरोना भत्ता के 50 हजार रुपये भी खाते में शासन की तरफ से आने वाले है। इसके बाद जितेंद्र ने एक हजार रुपये के लिए प्रेशर बनाना शुरू किया तो परेशान होकर राकेश ने 16 जून को उज्जैन जाकर लोकायुक्त एसपी को शिकायत की।

राकेश ने उज्जैन से आकर जितेंद्र को 500 रुपये और दिए, जितेंद्र ने शेष 500 रुपये की और मांग की। गुरुवार की दोपहर लोकायुक्त की टीम डीएसपी वेदांत शर्मा के नेतृत्व में कार्यालय पहुंची। राकेश ने अंदर जाकर प्रभारी अकाउंटेंट जितेंद को 500 रुपये देकर बाहर आकर इशारा किया। तभी टीम ने अंदर जाकर जितेंद को पकड़ कर रुपये जब्त किए।

Posted By: Prashant Pandey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.