Video: Shivpuri EOW Action News: 3 लाख मांगने वाला रोजगार सहायक 30 हजार लेते ईओडब्ल्यू ने किया रंगे हाथों गिरफ्तार

Updated: | Mon, 15 Nov 2021 04:03 PM (IST)

- मनरेगा के मस्टर भरने के एवज में की थी 4 लाख 30 हजार की मांग

-सरपंच के देवर से कमीशन की दूसरी किस्त के तौर पर ले रहा था 30 हजार

-ईओडब्ल्यू की लगातार जिले में तीसरी बड़ी कार्यवाही

-गौशाला, सड़क, पंचायत भवन, पौध रोपण से लेकरअन्य कामों के बदले मांगा था 5 परसेंट कमीशन

Shivpuri EOW Action News: शिवपुरी.नईदुनिया प्रतिनिधि। भ्रष्टाचार को लेकर विजिलेंस के प्राइम टारगेट पर आये शिवपुरी जिले में आज ईओडब्ल्यू की टीम ने शिवपुरी जिले के खनियाधाना तहसील अंतर्गत ग्राम पंचायत मुहारी कला के रोजगार सहायक राघवेंद्र लोधी को मनरेगा के कार्यों के मस्टर भरने के एवज में महिला सरपंच के देवर बृजपाल लोधी से 30000 रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।

रोजगार सहायक द्वारा ग्राम पंचायत की महिला सरपंच अभिलाषा लोधी से मनरेगा से प्रचलित विकास कार्यों के मस्टर भरने के एवज में 5 प्रतिशत कमीशन के तौर पर 4 लाख 30 हजार की मांग की जा रही थी। बाद में इनके बीच 3 लाख में लेनदेन तय हो गया था। कार्रवाई के संबंध में ईओडब्लू इंस्पेक्टर यशवंत गोयल और भीष्म तिवारी ने दी संयुक्त जानकारी में बताया कि यह कार्यवाही एसपी अमित सिंह के निर्देशन में शिकायत के आधार पर की गई है। उन्होंने बताया कि ईओडब्ल्यू को महिला सरपंच के परिजनों द्वारा शिकायत की गई थी कि रोजगार सहायक राघवेंद्र लोधी द्वारा ग्राम पंचायत के खरंजा, पंचायत भवन निर्माण, वृक्षारोपण, गौशाला की रोड निर्माण तथा गौशाला निर्माण के मनरेगा से प्रचलित कार्यों के एवज में 5 प्रतिशत कमीशन के तौर पर 430000 रुपए की मांग की जा रही है। बाद में 300000 में रोजगार सहायक मनरेगा के कार्यों के मस्टर भरने के लिए तैयार हो गया। ईओडब्लू टीम द्वारा इनके बीच हुई लेनदेन की चर्चा को रिकॉर्ड कराया जिस पर से टीम गठित कर कार्रवाई के निर्देश दिए गए। महिला सरपंच का देवर बृजपाल लोधी 10 हजार रुपए की पहली किस्त रविवार को ग्राम पंचायत के रोजगार सहायक राघवेंद्र लोधी को दे चुका था दूसरी किस्त सोमवार को दोपहर ग्राम पंचायत भवन में दी जाना थी जो ईओडब्ल्यू के संज्ञान में थी जैसे ही 30 हजार की दूसरी किस्त बतौर रिश्वत रोजगार सहायक राघवेंद्र लोधी के हाथ में महिला सरपंच अभिलाषा के देवर ब्रजपाल ने रखी वैसे ही ईओडब्ल्यू की टीम ने इसे रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। इस कार्यवाही में ईओडब्लू की ओर से यशवंत गोयल, भीष्म तिवारी, योगेंद्र दुबे, घनश्याम सिंह भदोरिया, जयसिंह यादव आरक्षक विशाल माने तथा नरेश शामिल रहे। गिरफ्तार किए गए रोजगार सहायक के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

Posted By: anil.tomar