वीडियो देखिये, उमरिया जिले के बांधवगढ़ रिजर्व में पेड़ पर चढ़े दो तेंदुए

Updated: | Fri, 26 Nov 2021 06:10 PM (IST)

उमरिया। बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में लोग बाघ देखने आते हैं, लेकिन यहां के सभी जानवर पर्यटकों को किस तरह से रोमांचित करते हैं इसकी एक बानगी शुक्रवार को देखने को मिली जब यहां के पर्यटकों ने पेड़ पर चढ़े हुए दो तेंदुओं के रोमांच को अपने कैमरे में कैद कर लिया। बांधवगढ़ के कोर जोन में जब पर्यटक बाघ की तलाश में घूम रहे थे इसी दौरान उन्हें पेड़ पर दो तेंदुए नजर आए।

तेंदुओं को देखकर खुशी से निकली पर्यटकों की किलकारी से पार्क गूंज गया। हर कोई अपने जिप्सी चालक को पेड़ पर चढ़े तेंदुए के नजदीक ले जाने के लिए कह रहा था, लेकिन जिप्सी चालक पार्क के नियमों से बंधे हुए थे। परिणाम स्वरूप एक निश्चित दूरी पर रुक कर पर्यटकों को पेड़ पर चढ़े तेंदुए की अठखेलिया दिखाई गई।

पेड़ पर अठखेलियां करने में मशगूल थे

पेड़ पर चढ़े दोनों तेंदुए पर्यटकों की भीड़ और उनके शोर-शराबे से बेखबर पेड़ पर अठखेलियां करने में मशगूल थे। तेंदुए पेड़ की एक डाल से दूसरी डाल पर छलांग लगा रहे थे। वे पूरी तरह मस्ती में मस्त थे। वह एक दूसरे को छकाने की कोशिश कर रहे थे और इस तरह खेल का रोमांच पर्यटकों के बीच पैदा कर रहे थे।

तेंदुए को देखकर पर्यटक खुशी से किलकारी लगा रहे थे। उन्हें यह देखकर ज्यादा मजा आ रहा था कि तेंदुए एक डाली से दूसरी डाली पर किस तरह उछल रहे थे। ताला के जंगल में तेंदुए की अठखेलियां निरंतर चलती रही और पर्यटकों की जिप्सी आगे बढ़ती रही। पर्यटक इस दौरान जिप्सी चालकों से ज्यादा समय तक रुकने की रिक्वेस्ट करते रहे लेकिन नियम से बंधे हुए जिप्सी चालक नहीं रुके।

बाघों ने भी किया रोमांचित

शुक्रवार को लगभग सभी पर्यटकों ने पार्क के अंदर बाघों का दीदार भी किया। कई स्थानों पर पर्यटकों को बाघ देखने को मिले लेकिन जो रोमांच तेंदुए को देखकर उत्पन्न हुआ वह बाघों से भी उत्पन्न नहीं हो पाया। पर्यटकों ने बताया कि दो तेंदुओं को इस तरह से पहले कभी पेड़ पर उछल कूद मचाते हुए नहीं देखा था। इसलिए उन्हें देखकर ज्यादा आनंद आया।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay