जानिए असली-नकली मक्खन में फर्क करना और घर पर बनाने का आसान तरीका

Updated: | Tue, 19 Oct 2021 08:29 PM (IST)

आज कल मार्केट में मिलावटी मक्खन बिक रहा है। जिसके बारे में कई लोगो को पता नहीं है। बटर में ट्रांसफैट, आयोडीन आदि को मिलाया जाता है। जो सेहत के लिए नुकसानदायक होता है। वह शरीर के कई अंगों को डैमेज करता है। वहीं नकली मक्खन हमारे लिवर, किडनी और दिल को भी प्रभावित करता है। ऐसे में इन मिलावटों को पता होना बहुत जरूरी है। आइए जानते हैं कैसे करें असली और नकली बटर की पहचान की जाती है। वह कैसे इसे घर पर बना सकते हैं।

नकली मक्खन के नुकसान

जसलोक अस्पताल एंड रिसर्च सेंटर की मुख्य आहार विशेषज्ञ डेलनाज चंदूवाडिया के अनुसार बटर में ट्रांसफैट, आयोडीन और स्टार्च की मिलावट की जाती है। साथ ही इसमें ट्राईसिलग्लिरॉल्स, फैटी एसिड, स्टेरोल्स और टोकोफेरोल का भी इस्तेमाल होता है। मक्खन में लिपिड प्रोफाइल और फैट की मात्रा अधिक होती है। जो बॉडी में सेल्स को नुकसान पहुंचाते हैं। वह मोटापा बढ़ाते हैं।

- नकली बटर खाने से शरीर में फैट की मात्रा बढ़ती है। जिससे कोलोस्ट्रॉल बढ़ाता है जो आगे जाकर हार्ट पॉब्लम का कारण बनता है।

- नकली मक्खन खाने से दिल का दौरे आने की संभावना ज्यादा होती है।

- नकली मक्खन खाने से मोटापा बढ़ाता है। जो अन्य बीमारियों को शरीर में प्रवेश देता है।

- मिलावटी बटर से लिवर, पैनक्रियाज और किडनी को नुकसान पहुंचता है।

- इसके अलावा मिलावटी मक्खन शरीर के डिटॉक्सिफिकेशन को नुकसान पहुंचाता है। इससे चेहरे पर काले धब्बे और कील मुंहासे होते है।

कैसे करें असली-नकली मक्खन में फर्क

1. अपने हाथों पर मक्खन रखें। अगर वो आसानी से पिघल जाए तो समझे असली है। नकली होने पर आसानी से नहीं पिघलेगा और ठहरा रहेगा। असली बटर शरीर की गर्मी से भी पिघल जाता है।

2. मक्खन गर्म करने पर असली भूरें और नकली पीले रंग का होगा।

3. एक कांच के जार में मक्खन और नारियल के तेल को पिघलाकर डालें। फिर उसे फ्रिज में रख दें। अगर बटर और तेल अलग-अलग परतों में जम जाएं, तो मिलावटी है।

4. बटर में आयोडीन नकम मिलाने पर अगर भूरा हो जाए, तो उसमें स्टार्च की मिलावट है। अगर मक्खन वैसे ही है तो उसमें कोई मिलावट नहीं की गई है।

घर पर ऐसे बनाएं मक्खन

1. सबसे पहले दूध से क्रीम निकाल कर कुछ हफ्तों तक इकट्ठा कर लें।

2. फिर क्रीम को मिस्कर में फेट दें। वह बर्तन में निकालकर चमच की सहायता से फेंटना शुरू करें। धीरे-धीरे स्पीड बढ़ाएं।

3. कुछ समय बाद क्रीम बन जाएगी।

4. थोड़ी देर बाद मक्खन के गुच्छे तैयार हो जाएंगे और छाछ अलग नजर आएगा।

5. अब क्रीम को जार में डालें और ढक्कन अच्छे से बंद कर दें।

6. जार को हिलाएं जब तक एक गांठ न बन जाएं।

7. अब एक छलनी या चीज क्लोथ का उपयोग करके छाछ में से मक्खन को छाने।

8. मक्खन के ऊपर ठंडा पानी डालें और दो से तीन बार धोएं।

9. स्वाद बढ़ाने के लिए नमक मिला सकते हैं। वह फ्रिज में स्टोर कर रख दें।

Posted By: Shailendra Kumar