Booster Dose in India: ओमिक्रोन के खतरे के बीच भारत में बूस्टर डोज लगाने की तैयारी, बड़ा फैसला आज संभव

Updated: | Mon, 06 Dec 2021 11:40 AM (IST)

Booster Dose in India: कोरोना महामारी के नए वैरिएंट ओमिक्रोन की भारत में एंट्री हो चुकी है और केस तेजी से बढ़ रहे हैं। इस बीच, क्या भारत में भी लोगों को कोरोना वैक्सीन का बूस्टर डोज लगाया जाएगा, इस पर एक्सपर्ट कमेटी सोमवार को मंथन करेगी? माना जा रहा है कि जल्द ही भारत में बूस्टर डोज (Booster Dose in India) पर बड़ा फैसला हो सकता है। वहीं, बच्चों की वैक्सीन पर भी अंतिम फैसला होना है। एक दिन पहले ही सरकार की ओर से बड़ी जानकारी दी है कि भारत में 50% वयस्क आबादी को कोरोना की दोनों डोज लग चुकी है। बता दें, जिन लोगों को वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी है, उन पर ओमिक्रोन का असर कम नजर आ रहा है। यानी तीसरा डोज देकर लोगों को ओमिक्रोन से सुरक्षित किया जा सकता है।

Booster Dose in India: भारत में कैसे लगाया जाएगा बूस्टर डोज

बूस्टर डोज का फैसला होने के बाद इसे चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा। जिन लोगों में ओमिक्रोन का खतरा अधिक रहेगा, उन्हें पहले यह वैक्सीन दी जाएगी। बता दें, भारत में टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (एनटीएजीआई) अतिरिक्त टीके की खुराक और 18 साल से कम उम्र के लोगों के बीच टीकाकरण दोनों के लिए एक व्यापक नीति पर काम कर रहा है। यह पैनल टीकाकरण से संबंधित मुद्दों पर केंद्र सरकार को सलाह देता है, जिसमें कोविड -19 टीकाकरण भी शामिल है।

जानकारी के मुताबिक, इसे अतिरिक्त खुराक कहा जा सकता है, जिसे कमजोर इम्युनिटी वाले लोगों के लिए अतिरिक्त सुरक्षा प्रदान करने पर विचार किया जा रहा है। यह एक बूस्टर खुराक से अलग है जो प्रतिरक्षा कम होने के बाद दी जाती है। हालांकि सरकार ने कहा है कि अब तक बूस्टर खुराक पर उसका ध्यान नहीं था, क्योंकि प्राथमिकता सभी योग्य लोगों को जितनी जल्दी हो सके टीकाकरण करना था।

Posted By: Arvind Dubey