HamburgerMenuButton

संकट के दौर में राहत भरी खबर, अप्रैल में खुदरा महंगाई दर में आई गिरावट

Updated: | Wed, 12 May 2021 08:01 PM (IST)

कोरोना संकट के इस दौर में राहत भरी खबर ये है कि पिछले महीने खुदरा महंगाई दर में थोड़ी गिरावट दर्ज की गई है। मार्च 2021 में खुदरा महंगाई दर 5.52 फीसदी थी, जो अप्रैल में घटकर 4.29 फीसदी पर पहुंच गई है। सांख्यिकीय और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़े के मुताबिक अप्रैल में खाद्य क्षेत्र में खुदरा मुद्रास्फीति मार्च के 4.87 फीसदी से घटकर 2.02 फीसदी रही। आपको बता दें कि रिजर्व बैंक अपनी मौद्रिक नीति तय करते समय मुख्य रूप से उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (CPI-Consumer Price Index) पर आधारित खुदरा मुद्रास्फीति को ही ध्यान में रखता है।

खुदरा महंगाई दर की बात करें तो यह लगातार पांचवां महीना है, जब CPI रिजर्व बैंक के लक्ष्य 4 फीसदी के दायरे में है। RBI ने महंगाई दर का लक्ष्य 4 फीसदी, 2 फीसदी के रेंज के साथ, यानी अधिकतम 6 फीसदी और न्यूनतम 2 फीसदी रखा है। ये लक्ष्य मार्च 2026 तक के लिए है।

ICRA के मुताबिक अप्रैल 2020 में देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान आपूर्ति बाधाओं के चलते सूचकांक का आधार ऊंचा रहा, उसे देखते हुए अप्रैल 2021 में सीपीआई मुद्रास्फीति तीन महीने के सबसे कम स्तर पर चली गई है। हालांकि यह आंकड़ा भी उम्मीद से ज्यादा ही लगता है। उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि कुल मिलाकर स्थानीय स्तर पर लगे प्रतिबंधों का कीमतों पर सीमित असर रहा है।

अगर उत्पादन की बात करें तो मार्च के महीने में देश के फैक्ट्री आउटपुट यानी IIP (Index of Industrial Production) में 22.40 फीसदी के तेजी दर्ज की गई। फरवरी के महीने में इसमें 3.6 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई थी। पूरे वित्त वर्ष 2020-21 में IIP में 8.6 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई थी। मार्च 2020 में IIP में 18.70 फीसदी की भारी गिरावट दर्ज की गई थी।

Posted By: Shailendra Kumar
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.