गुजरात सरकार ने की दिमागी बुखार का टीका मुफ्त लगाने की घोषणा

Updated: | Wed, 20 Oct 2021 09:53 PM (IST)

अहमदाबाद। मुख्‍यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने गुजरात के सरकारी अस्‍पतालों में बच्‍चों के दिमागी बुखार (न्‍यूमोनिया) का टीका मुफ्त लगाने की घोषणा की है। एक साल में करीब 12 लाख बच्‍चों को 36 लाख टीके लगाये जाएंगे। न्‍यूमोकोकल न्‍युमानिया एक तरह का श्‍वांंस रोग है, इससे फेंफडों में जलन व पानी जमा होता है जिससे बच्‍चों में श्‍वांंस में तकलीफ, कफ, छाती में दबाव, गले में दर्द होने लगता है। इसके संक्रमण के कारण शिशुओं को अन्‍य रोग होने की भी आशंका बढ जाती है। न्‍यूमानिया के कारण 2010 में भारत में 5 साल से कम एक लाख व 2015 में 53 हजार बच्‍चों की मौत हो गई थी। बालकों का म्रत्‍यूदर कम करने के इरादे से मुख्‍यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने दिमागी बुखार की बीमारी से ग्रसत बच्‍चों को सरकारी अस्‍पतालों में न्‍युमोकोकल कोंजुगेट टीका निशुल्‍क लगाने की घोषणा की है। मुख्‍यमंत्री ने छोटा उदेपुर से इस टीकाकरण की शुरुआत कर दी है, यह टीका जिला स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र, सामुदायिक भवन, हेल्‍थ एंड वेलनेस सेंटर आदि पर मुफ्त लगाया जा सकेगा। निजी अस्‍पताल में इस टीके की कीमत तीन से साढे चार हजार बताई जाती है, सरकार की ओर से नवजात को यह टीका छठे सप्‍ताह, 14वें सप्‍ताह में तथा नवें महीने में लगाया जाएगा। हर साल करीब 12 लाख बच्‍चों को 36 लाख टीके लगाये जाएंगे।

Posted By: Navodit Saktawat