IRCTC Jyotirlinga Darshan Train: ज्योतिर्लिंग दर्शन ट्रेन से करें तीर्थयात्रा, जानिए टूर पैकेज की कीमत, इन स्थानों की कराई जाएगी सैर

Updated: | Thu, 21 Oct 2021 02:12 PM (IST)

IRCTC Jyotirlinga Darshan Train। इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) देश के चार प्रमुख ‘ज्योतिर्लिंग’ स्थलों की तीर्थयात्रा को बढ़ावा देने के लिए आज से “ज्योतिर्लिंग दर्शन यात्रा ट्रेन” को शुरू कर रहा है। मिली जानकारी के मुताबिक IRCTC उत्तर प्रदेश के प्रयागराज संगम स्टेशन से “ज्योतिर्लिंग दर्शन यात्रा ट्रेन” की शुरुआत करेगा। “ज्योतिर्लिंग दर्शन यात्रा ट्रेन” 10 दिन तक सफर कराएगी और इस दौरान कई तीर्थ स्थलों की सैर कराई जाएगी। यह टूर पैकेज 10 रातों और 11 दिनों का होगा, जिसकी कीमत लगभग करीब 10 हजार रुपए है। आने वाले कुछ माह में से इस ट्रेन की बुकिंग शुरू हो जाएगी।

भगवान शिव को समर्पित मंदिर है ज्योतिर्लिंग

आपको बता दें कि ज्योतिर्लिंग मंदिर भगवान शिव को समर्पित होता है और पूरे भारत वर्ष में कुछ 12 शिव ज्योतिर्लिंग मंदिर है और इनका काफी धार्मिक महत्व है। ज्योतिर्लिंग दर्शन ट्रेन चार ज्योतिर्लिंगों महाकालेश्वर, ओंकारेश्वर, सोमनाथ और नागेश्वर ज्योतिर्लिंग की यात्रा कराएगी। इसके अलावा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी और उदयपुर की यात्रा की सुविधा भी होगी। इस टूर पैकेज की कीमत कीमत 10,395 रुपए प्रति व्यक्ति रखी गई है।

इन स्थानों की कराई जाएगी सैर

इस टूर पैकेज में 4 ज्योतिर्लिंगों के अलावा श्रद्धालुओं को द्वारका में द्वारकाधीश मंदिर, भेंत द्वारका मंदिर, अहमदाबाद में साबरमती आश्रम और बड़ौदा में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के दर्शन भी कराए जाएंगे। इन पर्यटन स्थलों के साथ, ट्रेन उदयपुर शहर में भी रूकेगी, जिसमें यात्रियों को सिटी पैलेस और महाराणा प्रताप स्मारक देखने के लिए ले जाया जाएगा। सफर के दौरान यात्रियों को शुद्ध शाकाहारी नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का खाना उपलब्ध कराया जाएगा। इसके अलावा, साइट देखने और धर्मशालाओं में रहने आदि के लिए स्थानीय बस की सुविधा भी IRCTC द्वारा प्रदान की जाएगी और टिकट की लागत में ये सभी खर्च शामिल हैं।

सफर के दौरान होगी ये सुविधाएं

इस टूर पैकेज में यात्रियों को धर्मशालाओं में ठहरने की व्यवस्था रहेगी। स्थानीय यात्राएं लोकल बसों से पूरी कराई जाएंगी। यात्रा के इच्छुक लोग लखनऊ गोमतीनगर स्थित IRCTC के दफ्तर से टिकट बुक कर सकते है। गोरखपुर से 24 अगस्त को भी दक्षिण भारत दर्शन यात्रा ट्रेन चलाई गई थी। आइआरसीटीसी के क्षेत्रीय प्रबंधक अजीत कुमार सिन्हा ने बताया कि यात्रियों की मांग को देखते हुए 7 ज्योतिर्लिंग दर्शन यात्रा ट्रेन संचालित करने का निर्णय लिया गया है। ट्रेन के प्रति लोगों के रुझान को देखते हुए IRCTC ने कोरोना की दूसरी लहर के बाद दूसरी भारत दर्शन यात्रा ट्रेन की घोषणा कर दी थी।

Posted By: Sandeep Chourey