Kargil Vijay Diwas 2021: शहीदों को याद कर रहा देश, राजनाथ सिंह ने वॉर मेमोरियल पहुंचकर दी श्रद्धांजलि

Updated: | Mon, 26 Jul 2021 02:42 PM (IST)

LIVE Kargil Vijay Diwas 2021: भारत में हर साल 26 जुलाई का दिन कारगिल विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसी दिन साल 1999 में भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सेना को खदेड़कर फिर से कारगिल की अहम चोटियों पर कब्जा कर लिया था। यह दिन देखने के लिए भारतीय सेना को 60 दिन से ज्यादा समय तक लद्दाख में संघर्ष करना पड़ा था। इस लड़ाई में भारत के लगभग 527 जवान शहीद हुए थे और 1300 से ज्यादा जवान घायल हुए थे। लद्दाख के द्रास क्षेत्र में कारगिल युद्ध स्मारक पर 559 दीपक जलाकर इन शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। 22वें कारगिल विजय दिवस के मौके पर आयोजित इस कार्यक्रम में रविवार को शीर्ष सैन्य अधिकारी, सेना कर्मियों के परिवार के सदस्य और कई अन्य गणमान्य अतिथि उपस्थिति रहे।

प्रधानमंत्री, रक्षामंत्री ने दी श्रद्धांजलि: कारगिल विजय दिवस के 22 साल पूरे होने के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ ही तमाम बड़े नेताओं ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी है। राजनाथ सिंह ने दिल्ली के नेशनल वॉर मेमोरियल पहुंचक श्रद्धांजलि दी।

द्रास में विशेष बैठक का आयोजन: द्रास के पास एक विशेष बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें सेना ने ऑपरेशन विजय की कई प्रेरक घटनाओं को याद किया। वीरता पुरस्कार विजेताओं और कारगिल युद्ध के नायकों के परिवारों सहित कई सैन्य कर्मी इस कार्यक्रम में शामिल हुए। पीआरओ डिफेंस कर्नल एमरॉन मुसावी ने कहा कि टाइगर हिल, पीटी 4875 और भारतीय सेना के बहादुर सैनिकों की कहानी इस कार्यक्रम में सुनाई गई। स्मारक पर 559 दीपक जलाए गए। ये दीप राष्ट्र के लिए कुर्बान होने वाले जीवन का प्रतीक हैं।

नम आंखों से शहीदों को दी मौन श्रद्धांजलि

इस कार्यक्रम में सैन्य बैंडों के एक फ्यूजन ने एक डिस्प्ले रखा। इसके बाद एक ‘बीटिंग द रिट्रीट’ समारोह हुआ और एक स्मारक सेवा आयोजित की गई, जिसमें लोगों ने नम आंखों से शहीद हुए वीरों को मौन श्रद्धांजलि दी। कर्नल मुसावी ने बताया कि दिन का अंतिम कार्यक्रम द्रास के पोलो ग्राउंड में सैनिकों के साथ ‘ए ट्वाइलाइट विद ब्रेव हार्ट्स’ था। इसके बाद शाम को भारतीय सेना के फ्यूजन बैंड ने लाइटेड पाइपर्स के साथ प्रदर्शन किया।

Posted By: Arvind Dubey