HamburgerMenuButton

LPG Cylinder पर मिलने वाली Subsidy को लेकर अच्‍छी खबर, जल्‍द खातों में जमा होगी राशि

Updated: | Fri, 26 Feb 2021 08:55 PM (IST)

LPG Cylinder Subsidy : इन दिनों एलपीजी के ग्राहकों के मन में एक ही सवाल चल रहा है कि क्‍या सरकार ने गैस सिलेंडर के साथ दी जाने वाली सब्सिडी की राशि देना बंद कर दी है। चूंकि कुछ महीनों से सब्सिडी का पैसा ग्राहकों के खातों में नहीं पहुंचा है तो कहीं बहुत ही नाम मात्र की राशि जमा हुई है। ऐसे में लोग चिंतित हैं कि कहीं सब्सिडी योजना सरकार ने बंद तो नहीं कर दी। अब एलपीजी सिलेंडर पर सब्सिडी को लेकर पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने साफ किया है कि सरकार ने सब्सिडी देना बंद नहीं किया है। न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए इंटरव्यू में प्रधान ने कहा, एलपीजी सब्सिडी को रोकने की रिपोर्ट गलत है। हम अभी भी उपभोक्ताओं को सब्सिडी प्रदान कर रहे हैं।

ठंड का मौसम खत्‍म होते ही सस्‍ती हो जाएगी रसोई गैस

पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों को लेकर बढ़ती चिंताओं के बीच केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि सर्दियों का मौसम खत्म होते ही रसोई गैस के दाम कम होंगे। अंतरराष्ट्रीय बाजार में पेट्रोलियम पदार्थों की कीमत का असर भी उपभोक्ताओं पर पड़ा है। प्रधान शुक्रवार को नई दिल्ली से वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि यह अंतरराष्ट्रीय मामला है। तेल उत्पादक देशों ने कोरोना के कारण उत्पादन कम कर दिया था। रसोई गैस कीमतों के बढ़ने की एक वजह अधिक मांग भी है। ऐसा सर्दियों में होता है। जैसे-जैसे सर्दी कम होगी, रसोई गैस के दाम भी घटेंगे।

14 करोड़ मुफ्त सिलेंडर दिए गए

उन्‍होंने कहा कि लॉकडाउन के वक्त प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत 14 करोड़ मुफ्त सिलेंडर दिए गए हैं। धर्मेंद्र ने कहा कि पिछले साल केंद्र सरकार ने लोगों की मदद करने और गरीबों को मुफ्त सिलेंडर देना का काम किया है। आज PMUJY गरीब जनता के कल्याण के लिए जाना जाता है। उन्होंने बताया कोविड-19 महामारी के दौरान पीएम उज्जवला योजना के लाभार्थियों के लिए तीन मुफ्त सिलेंडर की घोषणा की गई थी। पेट्रोलियम मंत्री ने उस रिपोर्ट का भी खंडन किया जिसमें कहा गया है कि स्वच्छ खाना पकाने की पहुंच तकनीकी उपलब्धता से परे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने विभिन्न योजनाओं के माध्यम से रसोई गैस की उपलब्धता को व्यापक बनाया है।

95 प्रतिशत घरों में एलपीजी कनेक्शन

प्रधान ने कहा कि PMUJY के करीब 70 प्रतिशत लाभार्थी एलपीजी सिलेंडरों को रिफिल कर रहे हैं। बाकी 30 प्रतिशत अपने सिलेंडरों को रिफिल नहीं कर रहे हैं। उन्हें लकड़ी इकट्ठा करने की आदत है। उन्होंने कहा कि वे यह नहीं समझते कि इस दुनिया में कुछ भी मुफ्त नहीं होता। धर्मेंद्र ने आगे कहा कि हम उन्हें जागरूक करने की कोशिश कर रहे हैं। आज 95 प्रतिशत घरों में एलपीजी कनेक्शन हैं। हमारा लक्ष्य हर घर को रसोई गैस से जोड़ना है।

Posted By: Navodit Saktawat
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.