HamburgerMenuButton

विश्व विख्यात है मारवाड़ी घोड़े, संरक्षण को लेकर आगे आए शिवाजी महाराज के 13वें वंशज

Updated: | Wed, 03 Mar 2021 08:13 AM (IST)

रंजन दवे, जोधपुर । छत्रपति शिवाजी महाराज के प्रत्यक्ष रूप से 13वें वंशज राज्य सभा सांसद कोल्हापुर राज्य के युवराज संभाजी राजे छत्रपति ने कहा कि मारवाड़ी नस्ल के घोड़े विश्व विख्यात रहे हैं, बात खूबसूरती की हो या दमखम की, स्वामी भक्ति की या फिर बहादुरी की हर क्षेत्र में मारवाड़ी घोड़ों का परचम हमेशा बुलंद रहा है लेकिन आज मारवाड़ी घोडों का इतना प्रचार प्रसार नहीं हो रहा है। मारवाड़ी घोड़ों को फिर से उनका वही स्थान दिलवाने के लिए प्रयास किया जाएगा।

जोधपुर में नई दुनिया से विशेष बातचीत में संभाजी राजे ने कहा कि मारवाड़ी घोड़े देश विदेश मे अपना महत्वपूर्ण स्थान रखते हैं, वह विश्व भर में प्रसिद्ध हैं लेकिन कई कारणों से इन दिनों उन्हें विश्व स्तर पर नहीं भेजा जा रहा है। राष्ट्रपति द्वारा विशेष रूप से नॉमिनेट व बैहद चर्चित राज्यसभा सांसद संभाजी छत्रपति ने कहा कि मारवाड़ी घोड़ों को फिर से उनका वही मुकाम दिलाने के लिए सामूहिक प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि यदि जरूरत हुई तो संसद में भी यह मुद्दा उठाया जाएगा और मारवाड़ी घोड़ों को निर्यात करने की दिशा में भी महत्वपूर्ण कार्य किए जाएंगे। ताकि इस दिशा में कुछ सकारात्मक और सार्थक काम किया जा सके और मारवाड़ी घोडों को एक बार फिर से वही मुकाम मिल सके।

सांसद सम्भाजी छत्रपति देश भर में विख्यात जोधपुर के हॉर्स शो में मुख्य अतिथि के रुप में शिरकत करने आए हैं। दो दिवसीय हॉर्स शो का आयोजन ऑल इंडिया मारवाड़ी हॉर्स सोसायटी के तत्वावधान में निकटवर्ती रणसी गांव में 3 और 4 मार्च को किया जा रहा है। सांसद संभाजी छत्रपति ने कहा कि मारवाड़ी घोड़ों के प्रोत्साहन के लिए जोधपुर का राज परिवार और रणसी गांव के कुंवर सवाई सिंह जो प्रयास कर रहे हैं काबिले तारीफ है। उन्होंने बताया कि इस सिलसिले में वे जोधपुर के महाराजा गजसिंह जी से मिलेंगे और उन्हें उनसे इस मुद्दे पर विस्तृत चर्चा करेंगे।

Posted By: Sandeep Chourey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.