मेरा मकसद किसी पार्टी का सफाया नहीं भाजपा को आगे बढ़ाना है : पूर्व राज्‍यपाल वजूभाई वाला

Updated: | Mon, 02 Aug 2021 06:52 PM (IST)

अहमदाबाद। कर्नाटक के पूर्व राज्यपाल एवं गुजरात के दिग्गज नेता वजूभाई वाला ने कहा है कि मेरा मकसद किसी पार्टी का सफाया नहीं भाजपा को आगे बढ़ाना है। गुजरात में प्रदेश संगठन महामंत्री बदले जाने पर उन्‍होंने कहा कि यह संघ की योजना के अनुसार तय होता है। राजकोट में मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने सोमवार को अपने जन्‍म दिन से पहले वरिष्‍ठ नेता वजुभाई वाला के पांव छूकर आशीर्वाद लिया। रुपाणी सरकार के 5 साल पूर्ण होने के उपलक्ष्य में चल रहे उत्सव के दूसरे दिन संवेदना दिवस सेवासेतु कार्यक्रम में शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री रुपाणी अपने गृह जिले राजकोट पहुंचे थे। मुख्‍यमंत्री ने गुजरात के पूर्व मंत्री एवं कर्नाटक के पूर्व राज्यपाल वजूभाई से घर जाकर मुलाकात की थी। इसके बाद वजूभाई ने पत्रकारों को बताया कि भाजपा में गली के कार्यकर्ता से लेकर प्रधानमंत्री तक सभी एक माला के मोती हैं और हर एक को अपनी अपनी जिम्मेदारी को वफादारी से पूरा करना होता है यही उनका कर्तव्य भी है। मुख्यमंत्री रुपाणी के कामकाज की सराहना करते हुए वजूभाई ने कहा कि राज्य में बहुत अच्छा कार्य हुआ है और वे इसके लिए मुख्यमंत्री रुपाणी को धन्यवाद भी देते हैं। प्रदेश भाजपा के संगठन महामंत्री बदले जाने पर वजूभाई ने साफ कहा कि यह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की योजना होती है किस कार्यकर्ता को कब, कहां पर कैसा काम सौंपना है।

वजुभाई से जब यह पूछा गया की गुजरात में क्या वे कांग्रेस का सफाया करेंगे इस पर उन्होंने साफ कहा कि वे किसी का सफाया करने या नकारात्मक राजनीति में विश्वास नहीं करते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा को आगे बढ़ाना ही मेरा लक्ष्य है। उल्लेखनीय है कि वजूभाई हाल ही अपना राज्यपाल का कार्यकाल पूरा कर गुजरात लौटे हैं, गुजरात पहुंचते ही उन्होंने राजनीतिक सक्रियता दिखाना शुरू कर दिया है। अपने कराड़िया राजपूत सम्मेलन तथा समाज के कुलदेवी का मंदिर बनाने की योजना की घोषणा कर उन्होंने अपने समुदाय में भी उत्‍साह ला दिया है। वजूभाई को गुजरात की राजनीति का दिग्गज नेता माना जाता है।

सौराष्ट्र में वजूभाई की मजबूत पकड़ है, वजूभाई की गिनती गुजरात के प्रबुद्ध एवं दिग्गज राजनेताओं में होती है। उनके एकाएक सामाजिक एवं राजनीतिक रूप से सक्रिय होने के कई कारण कई तरह की चर्चाएं भी शुरु हो गई हैं। गुजरात में मुख्यमंत्री विजय रुपाणी एवं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटील के दो मजबूत आधार स्तंभ के साथ वजूभाई का राजनीतिक रूप से सक्रिय होना प्रदेश भाजपा में भविष्य में कोई गुल खिला सकता है।

Posted By: Navodit Saktawat