HamburgerMenuButton

Pradhanmantri Awas Yojana: गरीबों के खाते में 2700 करोड़ रुपए, ऐसे करें चेक करें अपना बैलेंस

Updated: | Thu, 21 Jan 2021 01:13 PM (IST)

Pradhan Mantri Awas Yojana । प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पीएम नरेंद्र मोदी ने आज 2700 करोड़ रुपए लोगों के खातों में ट्रांसफर किए हैं। इस धनराशि से 6 लाख से अधिक लोगों के घरों का निर्माण किया जाएगा। फिलहाल ये धनराशि सिर्फ उत्तरप्रदेश के गरीब लोगों के लिए केंद्र सरकार द्वारा दी गई है। राशि जारी करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अपना घर होने से लोगों में विश्वास बढ़ता है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आत्मनिर्भरता का सीधा संबंध आत्मविश्वास से है। देश में 2 करोड़ घर तो सिर्फ ग्रामीण इलाकों में बने हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में 22 लाख घर बनाए जाने हैं। पहले की सरकार की गलत नीतियों के कारण गरीबों को परेशान होना पड़ता था।

पक्का घर बनाने के लिए केंद्र सरकार देती है मदद

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों के कमजोर वर्ग के लोगों को खुद का पक्का घर बनाने के लिए केंद्र सरकार आर्थिक सहायता दे रही है। और पुराने घर को पक्का करने में भी सरकार आर्थिक रूप से मदद कर रही है। पीएमएवाई-जी (PMAYG) में 6 लाख रुपए तक का ऋण सालाना सिर्फ 6 फीसदी तक की ब्याज दर पर ले सकते हैं। अगर घर बनाने के लिए इससे ज्यादा रकम चाहिए तो उस अतिरिक्त रकम पर आम ब्याज दर से लोन लेना होगा।

प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए ऐसे कर सकते हैं आवेदन

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत आवेदन करने के लिए सरकार ने मोबाइल आधारित एक आवास एप्लीकेशन भी बनाया है और इसे गूगल के प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। इसके बाद अपने मोबाइल नंबर से रजिस्टर करना होगा। मोबाइल पर प्राप्त OTP के जरिए रजिस्टर करने के बाद जरूरी जानकारियां बताना होगा। पीएमएवाई-जी (PMAYG) के तहत घर पाने के लिए आवेदन करने के बाद केंद्र सरकार लाभार्थियों का चुनाव करती है। इसके बाद लाभार्थियों की फाइनल लिस्ट पीएमएवाई-जी की वेबसाइट (PMAYG Website) पर डाल दी जाती है। इस योजना के तहत सभी काम ऑनलाइन ही हो ज्यादा है और ऑफिस के ज्यादा चक्कर भी नहीं काटने पड़ते हैं।

Posted By: Sandeep Chourey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.