पंजाब: कैरी बैग के लिए ग्राहक से लिए 4 रुपए, सुपरमार्केट को ब्याज के साथ देना होगा पैसा, जानें पूरा मामला

Updated: | Sun, 28 Nov 2021 11:35 AM (IST)

पंजाब के लुधियाना में जिला उपभोक्ता विवाद निवारण आयोग ने एक सुपरमार्केट को 4 रुपए वापस करने को कहा है। जो उन्होंने ग्राहक से कैरी बैग के लिए वसूले थे। साथ ही मुआवाजे के रूप में एक हजार रुपए देने का भी आदेश दिया है। दरअसल शिकायतकर्ता मनु कुमार ने ईजीडे सुपरमार्केट पर गलत व्यवसायिक कार्यप्रणाली का आरोप लगाया था। 15 मई 2019 को मनु ने आउटलेट से 120 रुपए के तीन सामान खरीदे थे। सुपरमार्केट ने उससे एक कैरी बैग के लिए 4 रुपए का शुल्क लिया, जो उसने कभी नहीं मांगा।

मनु कुमार ने 15 हजार मुआवजा और 15,000 मुकदमेबाजी खर्च देने की मांग की। हालांकि ईजीडे ने इसका विरोध किया। कहा कि शिकायतकर्ता को कैशियर के काउंटर पर सूचित किया गया था। अगर वह स्टोर से खरीदारी के लिए कैरी बैग लेते हैं, तो 4 रुपए का भुगतान करना होगा। सुपरमार्केट ने कहा, 'इससे ग्राहक खुद का बैग लाने के लिए प्रोत्साहित होते हैं।'

ईजीडे ने आयोग से कहा कि शिकायतकर्ता ने झूठी दलील दी है कि कैरी बैग की कीमत उसकी सहमति के बिना खरीदी गई आइटम्स में जोड़ी गई थीं। इस पर आयोग ने कहा कि शिकायतकर्ता को खरीद के लिए सामान के बाद बैग की कीमत के लिए 4 रुपए देने को कहा गया था। जिसे बैग के बिना नहीं ले जाया जा सकता था। मनु कुमार को एंट्री या स्टोर में कहीं भी नोटिस लगाकर नहीं बताया गया था कि कैरी बैग की अतिरिक्त लागत का भुगतान करना होगा।

जिला उपभोक्ता विवाद निवारण आयोग ने आदेश में कहा कि ईजीडे शिकायत के दिन के हिसाब से 6 फीसद वार्षिक ब्याज के साथ चार रुपए कस्टमर को देने होंगे। साथ ही शिकायतकर्ता को 1,000 रुपए का मुआवजा देना होगा।

Posted By: Sandeep Chourey