HamburgerMenuButton

जनता के लिए राहत भरी खबर, 22 मार्च के बाद Coronavirus से मृत्‍यु दर सबसे कम

Updated: | Mon, 26 Oct 2020 09:02 PM (IST)

कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में भारत के लिए अच्छी खबर है। लड़ाई के हर क्षेत्र में कामयाबी मिल रही है। आठ महीने बाद महामारी से मृत्युदर सबसे कम हो गई है। साढ़े तीन महीने बाद एक दिन में संक्रमण से होने वाली मौतों का आंकड़ा भी 500 से नीचे आ गया है। यही नहीं नए मामलों में भी लगातार कमी आ रही है। 24 घंटों के दौरान मिलने वाले नए मामलों की संख्या भी 96 दिन बाद सबसे कम रही है। लगातार ठीक होने वाले मरीज बढ़ रहे हैं। उबरने की दर 90.23 फीसद हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को कहा कि भारत में कोरोना संबंधी मृत्युदर घटकर 1.50 फीसद पर आ गई है, जो 22 मार्च के बाद से सबसे कम है। मृत्युदर में लगातार गिरावट हो रही है। मंत्रालय की तरफ से सुबह आठ बजे जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 480 लोगों की महामारी के चलते मौत हुई है, जो 12 जुलाई के बाद एक दिन में सबसे कम मौतें हैं। 12 जुलाई को महामारी से 500 लोगों की जान गई थी। इनको मिलाकर अब तक 1.19 लाख लोगों की जान जा चुकी है। इस दौरान 45,148 नए मामले देशभर में दर्ज किए गए हैं।

इससे पहले 22 जुलाई को 45,599 नए केस सामने आए थे। कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 79.09 लाख हो गई है, जिसमें से 71.37 लाख मरीज पूरी तरह से ठीक भी हो चुके हैं। ठीक होने वाले मरीजों में बीते 24 घंटों में स्वस्थ हुए 59,105 मरीज शामिल हैं। सक्रिय मामले 6,53,717 रह गए हैं जो कुल संक्रमितों का 8.26 फीसद है। इससे पहले 13 अगस्त को सक्रिय मामलों की संख्या 6,53,622 थी।

मंत्रालय ने कहा कि मृत्युदर में कमी का श्रेय अस्पतालों में भर्ती मरीजों से संबंधित मामलों का चिकित्सकीय प्रबंधन करने के केंद्र, राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के बेहतर प्रयासों को जाता है। मंत्रालय ने कहा कि राजस्थान, झारखंड, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, बिहार, ओडिशा, असम और केरल सहित 14 राज्यों तथा केंद्रशासित प्रदेशों में कोरोना संबंधी मृत्युदर एक प्रतिशत से कम है। चार मई को महामारी संबंधी मृत्युदर 3.23 प्रतिशत थी।

Posted By: Navodit Saktawat
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.