HamburgerMenuButton

Republic Day 2021: गणतंत्र दिवस में पहली बार राफेल आएगा नजर, जानिये इस बार के आयोजन में क्‍या होगा नया

Updated: | Sun, 24 Jan 2021 11:48 AM (IST)

Republic Day 2021: देश में गणतंत्र दिवस (Republic Day) की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। पिछले साल कोरोना वायरस (Corona Virus) के कारण स्वतंत्रता दिवस धूमधाम से नहीं मनाया गया था। अब देश में वैक्सीन आ चुकी हैं। ऐसे में इस साल रिपिब्लिक डे में काफी बदलाव देखने को मिलेगा। इस साल परेड कोविड-19 की गाइडलाइन में आयोजित की जाएगी। राफेल (Rafale) भी अपनी ताकत का प्रदर्शन करेगा। जबकि मुख्य अतिथि के रूप में विदेशी मेहमान नहीं आने वाले हैं। पहले ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने परेड का निमंत्रण स्वीकार कर लिया था, लेकिन कोविड के दौरान उनका दौरा रद्द हो गया।

आइए जानते हैं इस साल गणतंत्र दिवस की परेड में क्या होगा खास

1. राफेल आएगा नजर

पिछले साल सितंबर में फ्रांस खरीदे गए राफेल लड़ाकू विमान पहली बार 26 जनवरी की परेड में नजर आएंगे। वहीं परेड में एक महिला लड़ाकू पायलट भी होंगी। देश की पहली महिला फाइटर पायलटों में एक लेफ्टिनेंट भावना कंठ (Bhawana Kanth) की झांकी होगी। वह हल्के लड़ाकू विमान, हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर और सुखोई30 विमानों के मॉकअप का प्रदर्शन करेगी।

2. पहली बार केंद्रशासित लद्दाख की झांकी

पहली बार गणतंत्र दिवस परेड में केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद लद्दाख की झांकी नजर आएगी। झांकी में लद्दाख की कला, वास्तुकला, भाषा व बोलियां, रीति रिवाज, परिधान, साहित्य और विरायत को दर्शाया जाएगा। झांकी के अगले हिस्से में बुद्ध की 49 फीट की प्रतिमा होगी और पिछला हिस्सा थिकसे मठ को दर्शाएगा। लद्दाख की झांकी कलाकार वीर मुंशी ने तैयार की है।

3. बांग्लादेश सशस्त्र बल होगी परेड में शामिल

इस साल गणतंत्र दिवस में पहली बार बांग्लादेश सशस्त्र बलों की एक टुकड़ी भाग लेने वाली है। जिसमें 122 सैनिक होंगे। इससे पहले फ्रांस 2016 और यूएई 2017 के सैनिकों ने परेड में भाग लिया है।

4. कोरोना के कारण नहीं आएंगे विदेश मेहमान

वहीं इस साल कोरोना महामारी के कारण कोई विदेशी मेहमान गणतंत्र दिवस में नहीं आ रहे हैं। पहले ब्रिटेन प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन आने वाले थे, लेकिन उन्होंने यात्रा को रद्द कर दिया। बता दें जॉनसन कोविड-19 पॉजिटिव भी हो गए थे।

5. दर्शकों की संख्या में कटौती

इस बार गणतंत्र दिवस में दर्शकों में भी कटौती की गई है। केवल 25 हजार लोगों को ही आने की अनुमति है। पिछले साल एक लाख 50 हजार दर्शक थे। 15 साल के कम आयु के बच्चों को प्रवेश नहीं मिलेगा। परेड इंडिया गेट के सी-हेक्सागॉन में स्टेडियम तक जाएगी। जबकि झांकी ही लाल किले तक जाएगी।

Posted By: Navodit Saktawat
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.