#Omicron को लेकर राज्‍य सरकारों ने उठाए जरूरी कदम, जानिये कहां क्‍या है एक्‍शन प्‍लान

Updated: | Mon, 29 Nov 2021 09:35 PM (IST)

कोरोना के नए वैरियंट ओमिक्रोन के संभावित संकट को देखते हुए भारत सरकार सतर्क हो गई है। पिछले सप्‍ताह केंद्र सरकार ने राज्‍यों को जरूरी दिशा-निर्देश दिए, वहीं गृह मंत्रालय ने भी नई गाइडलाइन जारी कर दी है। इस बीच राज्‍यों के अपनी तैयारियां हैं। आज कई राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों ने इस दिशा में अहम कदम उठाए हैं। जानिये किस राज्‍य की क्‍या कार्य योजना है।

केरल

केरल स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने कहा कि भारत सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार, हमने अब तक उठाए गए कदमों और क्या कदम उठाए जाने पर चर्चा की। हमारे स्वास्थ्य कार्यकर्ता सभी चार हवाई अड्डों पर होंगे, डेटा एकत्र किया जाएगा और हम इसे पुलिस विभाग और सभी के साथ शेयर करेंगे। वे सभी जो जोखिम वाले देशों से यात्रा कर रहे हैं, उन्हें 7 दिनों के लिए क्वारंटाइन में रहना होगा। उन्हें 8 वें दिन फिर से आरटी-पीसीआर परीक्षण करना होगा और यदि वे नकारात्मक हैं तो भी उन्हें 7 दिनों के और आइसोलेशन का पालन करना होगा। इसलिए, उन्हें 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन में रहना होगा। हमने इन सबका विश्लेषण किया है और अपने सभी डीएमओ, डीपीएम आदि को सूचित किया है। हमने जिलों के साथ संवाद किया है।

उत्तराखंड

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने #Omicron पर उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की। उन्‍होंने कहा, हम सभी कोरोना वारियर्स के लिए आरटी-पीसीआर करेंगे। एक दिन में 25,000 परीक्षण करने के उद्देश्य से, हवाई अड्डों और रेलवे स्टेशनों पर यादृच्छिक परीक्षण बढ़ाया जाएगा। एक सप्ताह में समीक्षा होगी।

दिल्‍ली

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल 30 नवंबर को #Omicron और COVID की तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी के स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे और अस्पतालों की तैयारियों पर समीक्षा बैठक करेंगे। बैठक में डिप्टी सीएम, स्वास्थ्य मंत्री, मुख्य सचिव, स्वास्थ्य विभाग और अन्य शामिल होंगे।

गोवा

गोवा के सीएम प्रमोद सावंत ने कहा कि राज्य COVID पर केंद्र के दिशा-निर्देशों का पालन कर रहा है, सभी सावधानियां बरती जा रही हैं। इस मुद्दे पर चर्चा के लिए 30 नवंबर को स्वास्थ्य और राज्य प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक बुलाई गई है। एयरपोर्ट-रेलवे स्टेशनों को अलर्ट किया गया है और नए संस्करण के मद्देनजर सावधानी बरतने को कहा गया है।

भारत सरकार मेड-इन-इंडिया टीकों की आपूर्ति के लिए तैयार

विदेश मंत्रालय (MEA) ने कहा है कि, भारत सरकार मेड-इन-इंडिया टीकों की आपूर्ति सहित #OmicronVariant से निपटने में अफ्रीका में प्रभावित देशों का समर्थन करने के लिए तैयार है। यह आपूर्ति COVAX के माध्यम से या द्विपक्षीय रूप से की जा सकती है। भारत आवश्यक जीवन रक्षक दवाओं, परीक्षण किट, दस्ताने, पीपीई किट और वेंटिलेटर जैसे चिकित्सा उपकरणों की आपूर्ति के लिए भी तैयार है। भारतीय संस्थान अपने अफ्रीकी समकक्षों के साथ जीनोमिक निगरानी और वायरस लक्षण वर्णन संबंधी अनुसंधान कार्यों में सहयोग पर अनुकूल रूप से विचार करेंगे।

Posted By: Navodit Saktawat