वामपंथी उग्रवाद पर नकेल कसने में केंद्र और राज्यों के प्रयास से मिली सफलता: गृह मंत्री अमित शाह

Updated: | Sun, 26 Sep 2021 09:08 PM (IST)

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को वामपंथी उग्रवाद पर एक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की। इस मीटिंग में नक्सल प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्री व वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए। गृह मंत्री ने बैठक में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी के नेतृत्व में केंद्र नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के विकास के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि वामपंथी उग्रवाद पर नकेल कसने में मोदी सरकार और प्रदेशों के साझा प्रयासों से बहुत सफलता मिली है। शाह ने कहा, 'उग्रवाद की घटनाओं में 23 प्रतिशत और मौतों की संख्या में 21 फीसद कमी आई है।'

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि दशकों की लड़ाई के बाद हम ऐसे मुकाम पर पहुंच गए हैं। जहां मौतों की संख्या 200 से कम है। उन्होंने कहा कि जब तक हम वामपंथी उग्रवाद की समस्या से निजात नहीं पाते, तब तक इससे प्रभावित प्रदेशों का पूर्ण विकास संभव नहीं है। शाह ने कहा, 'केंद्र सरकार कई वर्षों से राजनीतिक दलों पर ध्यान दिए बिना दो मोर्चों पर लड़ाई कर रही है। जो हथियार छोड़कर लोकतंत्र का हिस्सा बनना चाहते हैं।' उनका दिल खोलकर स्वागत है, लेकि जो निर्दोष और पुलिस को नुकसान पहुंचाएंगे। उनको उसी तरह का जवाब दिया जाएगा।

अमित शाह ने आगे कहा कि आजादी के बाद पिछले छह दशकों में विकास न पहुचना असंतोष का कारण है। पीएम मोदी के नेतृत्व में विकास हो रहा है। अब नक्सली समझ चुके हैं कि निर्दोष लोग उनके बहकावे में नहीं आएंगे। उन्होंने कहा कि दोनों मोर्चों पर सफल होने के लिए ये बैठक बहुत महत्वपूर्ण है।

Posted By: Shailendra Kumar