टीकाकरण महाअभियान : बीते 11 दिनों में देश में दी गईं वैक्‍सीन की 10 करोड़ डोज, अब तक 80 करोड़ पार

Updated: | Sat, 18 Sep 2021 06:31 PM (IST)

देश में पिछले 24 घंटे के दौरान ही 2.50 करोड़ डोज लगाई गई हैं। अब तक 80 करोड़ से ज्यादा डोज लगाई जा चुकी हैं, जिसमें 59.99 करोड़ पहली और 20.10 करोड़ दूसरी डोज शामिल हैं। 80 करोड़ डोज लगाने पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने ट्वीट कर देशवासियों को बधाई दी और इसे विश्व के इतिहास में सुनहरा अध्याय बताया। आंकड़ों के मुताबिक आखिरी की 10 करोड़ डोज लगाने में मात्र 11 दिन का समय लगा, जबकि 60 से 70 करोड़ डोज के आंकड़े तक पहुंचने में 13 दिन लगे थे। शुरू की 10 करोड़ डोज 85 दिन में दी गई थीं।एक तरफ टीकाकरण की रफ्तार तेज हो रही है तो संक्रमण की गति थम रही है।

केरल में नहीं थम रहे मामले

अगर केरल को छोड़ दें तो पूरे देश में कोरोना संक्रमण के हालात फिलहाल पूरी तरह से काबू में नजर आते हैं। केरल में ही स्थिति नियंत्रण में नहीं आ रही। पिछले 24 घंटे में पूरे देश में 35 हजार से कुछ ज्यादा नए मामले मिले हैं, जिनमें से अकेले केरल से ही 23 हजार से अधिक केस हैं। इस दौरान कुल 281 मौतें हुई हैं, इसमें भी सबसे ज्यादा संख्या 131 केरल से ही है। इस दौरान सक्रिय मामलों में डेढ़ हजार से अधिक की वृद्धि हुई है और एक्टिव केस 3,40,639 हो गए हैं जो कुल मामलों का 1.02 फीसद है। इसकी वजह से मरीजों के उबरने की दर में मामूली गिरावट दर्ज की गई है। दैनिक और साप्ताहिक संक्रमण दर तीन फीसद से नीचे बनी हुई है।

देश में कोरोना की स्थिति

भारत, उत्तर प्रदेश, लखनऊ

24 घंटे में नए मामले 35,662

कुल सक्रिय मामले 3,40,639

24 घंटे में टीकाकरण 2.50 करोड़

कुल टीकाकरण 80.09 करोड़

शनिवार सुबह 08ः00 बजे तक कोरोना की स्थिति

नए मामले 35,662

कुल मामले 3,34,17,390

सक्रिय मामले 3,40,639

मौतें (24 घंटे में) 281

कुल मौतें 4,44,529

ठीक होने की दर 97.65 फीसद

मृत्यु दर 1.33 फीसद

पाजिटिविटी दर 2.46 फीसद

सा.पाजिटिविटी दर 2.02 फीसद

जांचें (शुक्रवार) 14,48,833

कुल जांचें 55,07,80,273

शनिवार शाम 06ः00 बजे तक किस राज्य में कितने टीके

महाराष्ट्र 12.46 लाख

बंगाल 10.73 लाख

मध्य प्रदेश 5.61 लाख

उत्तर प्रदेश 5.50 लाख

राजस्थान 3.62 लाख

गुजरात 3.45 लाख

पंजाब 2.31 लाख

दिल्ली 2.00 लाख

छत्तीसगढ़ 1.96 लाख

हरियाणा 1.88 लाख

बिहार 1.62 लाख

झारखंड 1.03 लाख

जम्मू-कश्मीर 0.87 लाख

उत्तराखंड 0.76 लाख

हिमाचल 068 लाख

(आंकड़े कोविन पोर्टल के)

Posted By: Navodit Saktawat