HamburgerMenuButton

Chhadimar Holi In Gokul 2021: गोकुल में छड़ी मार होली की तैयारियां शुरू, कान्हा ने पहली बार यहीं खेला था रंग

Updated: | Wed, 10 Mar 2021 07:53 AM (IST)

Chhadimar Holi In Gokul 2021: देश में अब रंगों के त्योहार होली का इंतजार हो रहा है। फाल्गुन मास की पूर्णिमा तिथि को होली मनाी जाती है और इस बार होलिका दहन 28 मार्च (रविवार) को होगी, वहीं रंग 29 मार्च (सोमवार) को खेला जाएगा। भगवान श्रीकृष्ण की नगरियों, गोकुल और बनारस में होली के त्योहार की अलग की चमक होती है। गोकुल में छड़ी मार होली खेली जाती है। इसकी तैयारियां अभी से शुरू हो गई हैं। गोलुक को भगवान श्रीकृष्ण की क्रीड़ास्थली कहा जाता है और कान्हा ने पहली बार रंग यही खेला था। गोकुल में 26 मार्च को छड़ीमार होली खेली जाएगी। इस मौके पर यहां द्वापर युग की कृष्ण लीला को झांकियों में सजाया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक, 26 मार्च को नंद भवन मंदिर से होली का डोला दोपहर 12 बजे निकलेगा। डोले में भगवान श्रीकृष्ण, बलराम, ग्वाल-बाल के रूप में विराजमान रहेंगे। होली के रसिया गोकुल के वातावरण को अल्हड़ बना देंगे। मुरलीधर घाट पर डोला के पहुंचने पर होली जीवंत हो उठती है। गोकुल की हवा अबीर-गुलाल से सतरंगी हो जाती है और टेसू के रंग खिल जाएंगे। अबीर-गुलाल से होली स्थल पर सतरंगी बादल छा जाएंगे। घाट से होली खेलते हुए और अबीर-गुलाल उड़ाते हुए ग्वाल-बाल मंदिर पहुंचेंगे। मंदिर पहुंचने पर प्रसाद वितरित किया जाएगा। कोरोना काल में तमाम सावधानियां बरतते हुए आयोजन की तैयारी की जा रही है।

मथुरादास पुजारी बताते हैं कि छड़ीमार होली की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। छड़ियों को साफ कर लिया गया है, अब गोटे से सजाया जाएगा। करीब 150 छड़ी होली के लिए सजाई जाएंगी। इस बार आयोजन में कितने लोग हिस्सा ले सकेंगे, इस बारे में स्थानीय प्रशासन से जानकारी ली जा रही है।

जानिए क्यों खेली जाती है झड़ीमार होली

मान्यता है कि भगवान श्रीकृष्ण ने पहली होली गोकुल में खेली थी। गोकुल में भगवान का बचपन बीता था। बालस्वरूप होने के कारण छड़ीमार होली खेली जाती है। वहीं अन्य स्थानों पर लट्ठमार होली खेली जाती है। इस बार छड़ीमार होली के लिए अलग-अलग रंगों का 21 मण अबीर-गुलाल हाथरस से मंगाया जाएगा।

Posted By: Arvind Dubey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.