HamburgerMenuButton

Shani Dhaiya 2021: राशि बदलकर कुंभ में जाएंगे शनि, कर्क और वृश्चिक राशि पर होगी शनि की ढैय्या

Updated: | Wed, 12 May 2021 11:49 AM (IST)

Shani Dhaiya 2021: शनि का राशि परिवर्तन साल 2022 में होने जा रहा है। शनि 29 अप्रैल 2022 के दिन राशि बदलकर कुंभ राशि में चले जाएंगे। इससे कई राशि वालों के अच्छे दिन शुरू हो जाएंगे तो कुछ के कष्टों में बढ़ोतरी होगी। मिथुन और तुला राशि के जातक शनि की ढैय्या से मुक्त हो जाएंगे पर, कर्क और वृश्चिक राशि के जातकों पर शनि की ढैय्या शुरू हो जाएगी।

साढ़े साती की तरह परेशान करती है ढैय्या

शनि साढ़े साती की तरह ही शनि की ढैय्या भी परेशान करती है। जन्म चंद्र से जब गोचर का शनि चौथे या आठवें भाव में गोचर करता है तब शनि की ढैय्या शुरू होती है। इसके कारण व्यक्ति के बनते हुए काम बिगड़ने लगते हैं। इसलिए इस समय हर काम में सतर्कता बरतने की जरूरत होती है। शनि की ढैय्या लगने पर किसी से भी वाद-विवाद करने से बचना चाहिए।

क्या हैं लक्षण

शनि की ढैय्या लगने पर जातक को अधिक नींद आ सकती है और बार-बार लोहे से चोट लग सकती है। किसी न किसी से वाद-विवाद होता रहता है। संपत्ति विवाद में फंस सकती है। बेवजह के कोर्ट-कचहरी के चक्कर काटने पड़ सकते हैं। तरक्की में बाधाएं आती हैं। वाहन दुर्घटनाग्रस्त होने की आशंका रहती है।

क्या है उपाय

शनि ढैय्या में हमेशा धैर्य से काम लेना चाहिए। इस समय धोखा मिलने के आसार रहते हैं। इसलिए दोस्ती करते समय सावधानी बरतनी चाहिए। प्रतिदिन सुबह में चिड़ियों को दाना-पानी और चींटियों को आटा-शक्कर देना चाहिए। काली उड़द दाल, तिल, काले कपड़े आदि का दान करना चाहिए। शनि को प्रसन्न करने के लिए सुबह और शाम के भोजन में काले नमक और काली मिर्च का प्रयोग करें। शनि की ढैय्या के दौरान मांस-मदिरा का सेवन बिल्कुल भी ना करें। सुन्दरकाण्ड या हनुमान चालीसा का लगातार पाठ करें।

Posted By: Sandeep Chourey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.