Tokyo Olympics July 24: पूरे देश में छा गईं मीराबाई चानू, बधाइयों का सिलसिला शुरू, जानिए PM मोदी ने क्या कहा

Updated: | Sat, 24 Jul 2021 03:08 PM (IST)

Tokyo Olympics LIVE July 24। मीराबाई चानू के मेडल जीतते ही पूरे देश में खुशी की लहर दौड़ गई है और बधाईयों का दौर शुरू हो गया है। साथ ही देश में ओलंपिक खिलाड़ियों से उम्मीद भी बढ़ गई है। मीराबाई चानू ने अपनी सफलता से पूरे देश का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया है। मीराबाई चानू की उपलब्धि पर खुशी जाहिर करते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और पीएम नरेंद्र मोदी ने बधाई दी है। मीराबाई चानू ने टोक्यो ओलंपिक में भारत के लिए पहला सिल्वर मैडल हासिल किया है। मीराबाई चानू को बधाई देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विट किया है कि ‘मीराबाई चानू के शानदार प्रदर्शन से भारत उत्साहित है। वेटलिफ्टिंग में रजत पदक जीतने के लिए उन्हें बधाई। उनकी सफलता हर भारतीय को प्रेरित करती है’। साथ ही राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी मीराबाई चानू को बधाई दी है।

ऐसा रहा मीराबाई चानू का प्रदर्शन

मीराबाई चानू ने स्नैच में 87 किलोग्राम भार उठाया। क्लीन एंड जर्क में मीराबाई चानू 115 किलोग्राम का भार सफलतापूर्वक उठाया और वह भारत के लिए मेडल जीतने में सफल हुई है। ओलंपिक खेलों के लिए टोक्यो रवाना होने से पहले ही मीराबाई चानू कहा था कि वह भारत के लिए मैडल जरूर जीतकर लाएंगी। मीराबाई चानू ने देश की झोली में पहला सिल्वर मैडल डाल दिया है। मीराबाई चानू के कोच ने भी दावा किया था कि सिल्वर मेडल पक्का है और क्लीन एंड जर्क के आखिरी प्रयास में 117 किलोग्राम का भार उठाने की कोशिश की थी, लेकिन वो सफल नहीं हो पाई और सिल्वर मैडल पर संतोष करना पड़ा।

टोक्यो ओलंपिक के पहले ही दिन खुला भारत का खाता

गौरतलब है कि सिल्वर मैडल मिलने के साथ ही टोक्यो ओलंपिक में पहले ही दिन भारत का खाता खुल गया है। इससे पहले साल 2000 में कर्णम मल्लेश्वरी ने लंदन ओलिंपिक में कांस्य पदक जीता था। उसके बाद से अभी तक किसी महिला खिलाड़ी को यह पदक नहीं मिला था। ओलिंपिक के इतिहास में यह भारत का पांचवां सिल्वर मेडल है।

Posted By: Sandeep Chourey