Reliance Jio ने समय से पहले किया स्पेक्ट्रम का भुगतान, 30791 करोड़ रुपये चुकाए

वर्ष 2014, 2015, 2016 में जियो ने स्पेक्ट्रम हासिल किया था साथ ही 2021 में भारती एयरटेल लिमिटेड से भी जियो ने स्पेक्ट्रम खरीदा था।

Updated: | Wed, 19 Jan 2022 11:20 AM (IST)

नई दिल्ली/मुंबई: रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड ("आरजेआईएल") ने दूरसंचार विभाग को 30,791 करोड़ रुपये का भुगतान किया है। जियो ने नीलामी में प्राप्त स्पेक्ट्रम की संपूर्ण देनदारियों को समय से पहले ही चुका दिया है। वर्ष 2014, 2015, 2016 में जियो ने स्पेक्ट्रम हासिल किया था साथ ही 2021 में भारती एयरटेल लिमिटेड से भी जियो ने स्पेक्ट्रम खरीदा था। कंपनी ने इन सभी देनदारियों का भुगतान कर दिया है। कंपनी ने इन नीलामियों और सौदों में 585.3 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम का अधिग्रहण किया था।

दूरसंचार कंपनियों के लिए, दिसंबर 2021 में दूरसंचार विभाग ने एक पैकेज की घोषणा की थी। जिसमें भुगतान की शर्तों को लचीला किया गया था। परंतु जियो ने वर्ष 2016 में प्राप्त स्पेक्ट्रम से संबंधित भुगतान की पहली किस्त अक्टूबर 2021 में ही चुका दी थी। वर्ष 2014 और 2015 में नीलामी में प्राप्त स्पेक्ट्रम की संपूर्ण डेफर्ड देनदारियों के साथ-साथ ट्रेडिंग के माध्यम से प्राप्त स्पेक्ट्रम की देनदारियों को जियो ने जनवरी 2022 में समय पूर्व भुगता दिया है।

• मार्च 2021 से पहले नीलामी में हासिल किए गए स्पेक्ट्रम पर देनदारियों का निपटान हुआ

• जियो ने वर्ष 2034-35 तक की देनदारियों का भुगतान किया

• ब्याज पर 1200 करोड़ बचाएगी कंपनी

यहां भी क्लिक करें: छोटी बहू का बड़ा झटका, दिल्ली जाकर भाजपा में शामिल हुईं अपर्णा यादव, चुनाव लड़ने पर सस्पेंस

ये देनदारियां वित्त वर्ष 2022-23 से 2034-2035 तक वार्षिक किश्तों में देय थीं और ब्याज दर 9.30% से 10% प्रति वर्ष के बीच थी। कंपनी का अनुमान है कि समय से पहले भुगतान करने से केवल ब्याज पर ही सालाना 1200 करोड़ रूपये की बचत होगी।

Posted By: Arvind Dubey