- गुप्ता

- बिजली कंपनी के एमडी ने कर्मचारी को दी थी आलीराजपुर भेजने की धमकी

- एमडी ने माफी नहीं मांगी तो कोर्ट में सामाजिक संगठन दायर करेंगे याचिका

आलीराजपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

विद्युत वितरण कंपनी के एमडी विकास नरवाल के बड़बोले शब्दों ने उनको उलझा दिया है। गुस्से में अधीनस्थ अधिकारी को आलीराजपुर भिजवाने की धमकी देना शायद उन्हें अब महंगा पड़ेगा। उनके खिलाफ कार्यवाही करने की मांग सहित मामला प्रधानमंत्री कार्यालय पहुंच गया।

दरअसल, लायंस क्लब आलीराजपुर के अध्यक्ष गोविंदा गुप्ता और सचिव सपन जैन ने एक शिकायत प्रधानमंत्री सहित मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव को की है, जिसमें उन्होंने बताया कि मप्र के गुजरात सीमा पर अंतिम छोर पर स्थित आलीराजपुर जिला जो निरन्तर विकासशील जिलों की सूची में शामिल है। हम यहीं के निवासी होकर निवेदन करते हुए आपका ध्यान इस बात पर आकर्षित करते हैं कि दैनिक समाचार पत्र की एक कटिंग वाट्सअप पर वायरल होती नजर आई, जिसमें मप्र विद्युत वितरण कंपनी के एमडी विकास नरवाल ने देर रात इंदौर के एक विद्युत कार्यालय का निरीक्षण कि या। निरीक्षण के दौरान मिली लापरवाही के चलते वहां कार्यरत अधिकारी को फटकार लगाते हुए कार्य में सुधार लाने के निर्देश तो दिए, मगर एमडी गुस्से में उस अधिकारी को धमकाते हुए यह शब्द कह गए कि कामकाज सुधार लीजिए नहीं तो आलीराजपुर भेज दूंगा। वहीं जनहितैषी युवक मंडल की अध्यक्ष दिव्या गुप्ता ने बताया कि एमडी विकास नरवाल द्वारा इस तरह के शब्द का उपयोग एक वरिष्ठ अधिकारी द्वारा कि या जाना निंदनीय है। यह आलीराजपुर जिले की छवि खराब करने की चेष्टा है। एमडी विकास द्वारा जिस तरह आलीराजपुर का अपमान कि या है, उसकी हम लायंस क्लब आलीराजपुर, जनहितैषी युवक मंडल आलीराजपुर सहित अन्य सामाजिक संगठन कड़ी निंदा करते हुए वरिष्ठ अधिकारियों से मांग करते हैं कि एमडी नरवाल तत्काल इस मामले में लिखित माफी मांगे। अन्यथा आलीराजपुर की जनता की ओर से हमारा प्रतिनिधिमंडल इस मामले में आलीराजपुर की छवि खराब करने और नगर को बदनाम करने वाले इन बड़बोले अधिकारी के खिलाफ न्यायालय में प्रकरण दायर करेगा।