पौधारोपण : आदिवासी समाज के युवाओं और बच्चों ने लिया संकल्प

कट्ठीवाड़ा। नईदुनिया न्यूज

स्थानीय नवनिर्मित मांगलिक भवन पर आदिवासी दिवस से संबंधित कार्यक्रमों की रूपरेखा के लिए बैठक रविवार को की गई। इसमें वरिष्ठों के साथ ही युवाओं और बच्चों ने पौधारोपण कर प्रकृति को हराभरा बनाने का संकल्प भी लिया।

कार्यक्रम का प्रारंभ आदिवासी समाजजनों के देवता गोवर्धन देव गोंदरा देव का पारंपरिक रूप से पूजन कि या गया। इसके बाद आदिवासी वीर नायक भगवान बिरसा मुंडा, बाबा साहब आम्बेडकर व टंट्या मामा की तस्वीर पर पुष्पाजंलि अर्पित की। बैठक की अध्यक्षता के लिए पार सिंह बारिया सामाजिक कार्यकर्ता का नाम प्रस्तावित कि या गया। विशेष अतिथि के रूप में वायएस बिलवाल वन परिक्षेत्राधिकारी वनमंडल कट्ठीवाड़ा व राजू भाई सरपंच प्रतिनिधि और आदिवासी समाज की वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता हीराबेन बारिया उपस्थित रहे। बैठक में उपस्थित समस्त सामाजिक कार्यकर्ताओं द्वारा 9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस तहसील स्तर कट्ठीवाड़ा में इस वर्ष भी मनाने का निर्णय लिया गया। विश्व आदिवासी दिवस को सफल बनाने के लिए विभिन्न समितियों का गठन सर्व सहमति से कि या जाकर सबको जवाबदारी दी गई। हितेश तोमर, वरसिंह बारिया ने बताया कि आदिवासी समाज सदियों से प्रकृति का संरक्षण करते आया है और हम पौधारोपण कर यह संदेश भी देना चाहते है कि हम प्रकृति माता को हरीभरी रखने में कोई कसर बाकी नहीं रखेंगे। बैठक में सर्व सहमति से यह निर्णय लिया गया कि 28 जुलाई रविवार को आदिवासी महिला मंडल का गठन कि या जाएगा। सभी महिलाओं और युवतियों को बैठक में अनिवार्य रूप से उपस्थित रहने के लिए आमंत्रित कि या गया है। इस अवसर पर आदिवासी समाज के अनेक जनप्रतिनिधि, समाजिक कार्यकर्ता, कर्मचारी, छात्र और ग्रामीण उपस्थित थे।