आलीराजपुर। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने रविवार को आलीराजपुर बस स्टैंड पर जनसभा को संबोधित किया। मंच पर पार्षद पद के लिए महिला प्रत्याशियों की संख्या अधिक दिखने पर उन्हें बताया गया कि 18 में से 11 बहनें हैं। इस पर सीएम बोले-आलीराजपुर ने तो गजब कर दिया। हमने बहनों को 50 प्रतिशत आरक्षण दिया। यहां 70 प्रतिशत से ज्यादा दे दिया।

मुख्यमंत्री निर्धारित समय दोपहर तीन बजे से करीब डेढ़ घंटा देरी से यहां पहुंचे। चूंकि चुनाव आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार शाम पांच बजे चुनाव प्रचार बंद किया जाना था, इसलिए सभा में भी जल्दबाजी दिखी। सीएम ने कहा कि बहनों को 50 फीसद आरक्षण सबसे पहले मैंने दिया। पहले भाई चुनाव लड़ा करते थे और महिलाएं घरों में रहती थीं। जब से हमने आरक्षण दिया, बहनें सरकार चलाने का काम कर रही हैं। सीएम ने कहा कि मैं आप सभी से माफी चाहता हूं।

पांच बजे की मर्यादा है, नहीं तो पहले जगह-जगह जनता से प्यार से मिलने आते थे। सीएम ने कहा, मैं जानता था कि आलीराजपुर नहीं आया, तब भी आपका आशीर्वाद मिलेगा। सही बात यह है कि मुझे आलीराजपुर वालों की याद आ रही थी। चुनाव तो बहाना था, आलीराजपुर वालों से मुझे मिलने आना था।

सीएम ने कहा कि आलीराजपुर बहुत सुंदर शहर है। यहां की सुंदरता, प्रेम, भाईचारा, सांप्रदायिक सद्भाव अद्भुत है। जब हमने सरकार बनाई तब कहा जाता था कि आलीराजपुर जिला बन ही नहीं सकता। हमने इसे जिला बनाया। अंत में सीएम ने भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में मतदान की अपील की। निर्धारित समय पर सभा समाप्त कर दी गई।

आलीराजपुर, जोबट और आजादनगर में कल मतदान आलीराजपुर। जिले के तीन नगरीय निकायों में चुनाव प्रचार का शोर रविवार को थम गया। जनता ने सबको सुना, अब बारी फैसले की है। मतदाता 27 सितंबर को अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे। इसके साथ ही जिले के तीनों निकायों के 154 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन में कैद हो जाएगा। मतदान सुबह सात से शाम पांच बजे तक होगा। परिणामों की घोषणा 30 सितंबर को होगी।

थम गया प्रचार का दौर, अब मंगलवार को होगा मतदान

चुनाव प्रचार के आखिरी दिन प्रत्याशी पूरी ताकत से मैदान में डटे रहे। भाजपा के पक्ष में जहां मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने सभा ली, वहीं कांग्रेस की ओर से स्थानीय वरिष्ठ नेताओं ने मैदान संभाला। उम्मीदवारों को अपने पक्ष में रिझाने का हर संभव प्रयास किया गया।

पेटलावद। नगरीय निकाय चुनाव का मतदान मगंलवार को होगा। 15 वार्ड के पार्षद पदों के लिए मतदान किया जाएगा। रविवार शाम पांच बजे प्रचार का दौर थम गया। प्रचार के अंतिम दिन प्रत्याशियों ने पूरी ताकत झोंक दी। दिनभर पूरे नगर के प्रमुख स्थानों पर पहुंचकर प्रत्याशियों ने जुलूस निकाला और पैदल मार्च कर अपने पक्ष में मतदान करने की अपील की। राजनीतिक दलों के अलावा निर्दलीय प्रत्याशी भी मतदाताओं को रिझाने में जुटे थे।

प्रचार की शुरुआत से लेकर रविवार तक प्रत्याशियों ने मतदाताओं को रिझाने के लिए घर-घर जाकर जनसंपर्क किया। पार्षद पद प्रत्याशियों के समर्थकों के साथ उनके स्वजन, महिला स्वजन भी चुनावी प्रचार में आए। दोनों राजनीतिक दलों ने 15 वार्डों में से नौ में महिलाओं को टिकट दिया है। ऐसे में सुबह से ही महिलाएं ने गली- मोहल्लों में अन्य महिलाओं के साथ निकल कर सीधे महिला मतदाताओं के पास पहुंचकर अपने पक्ष में वोट की अपील की।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close