आलीराजपुर (देवेंद्र मीणा)। किसानों के लिए ऋण माफी योजना का सौ फीसद क्रियान्वयन जिले में हो इसके लिए हर स्तर पर कवायद की जा रही है। जेल में बंद किसानों को भी ऋण माफी का लाभ दिया जाएगा। अधिकारियों ने जेल में बंद किसानों से भी परिजनों के माध्यम से योजना के तहत फॉर्म भरवाएं हैं। जिले में अब तक 85 प्रतिशत किसानों के फॉर्म भरे जा चुके हैं।

जिला जेल में बंद कुछ किसानों के नाम भी ऋण माफी योजना के तहत सामने आए है। ऐसे में जेल में बंद किसानों को लाभ तभी मिलेगा जब वे निर्धारित प्रारूप का फॉर्म भरेंगे। अब कृषि विभाग के अधिकारी उनके परिजनों की मदद से जेल में बंद किसानों के भी फॉर्म भरवा रहे हैं। जेल में बंद कट्ठीवाड़ा क्षेत्र के किसान का फॉर्म हाल ही में अफसरों ने भरवाया है। जिले में अभी तक लगभग 5 हजार 511 किसानों ने योजना के तहत आपत्ति दर्ज कराते हुए गुलाबी फॉर्म भरे हैं। इसमें वे किसान शामिल है, जिनका नाम सूची में शामिल नहीं है। सूची में नाम है तो ऋण राशि में गड़बड़ी है। इस तरह की आपत्तियां किसानों ने दर्ज कराई है।

वहीं आधार से लिंक वाले हरे फॉर्म अभी तक 24 हजार 652 किसानों ने भरे है, जबकि सफेद फॉर्म 7 हजार से अधिक भरे गए हैं। ये सभी बिना आधार लिंक वाले फॉर्म है। इस तरह कुल करीब 37 हजार 244 फॉर्म 31 जनवरी तक किसानों के भरे जा चुके है। कुल 43 हजार 981 किसानों के फॉर्म जिले में भराए जाने है। 5 फरवरी फॉर्म भरने की अंतिम तारीख है।

कोटवारों से करवाया जाएगा प्रचार प्रसार

जिले में फॉर्म भरने की अंतिम तारीख पांच फरवरी से पहले सभी किसानों के फॉर्म भरने की प्रक्रिया को सुनिश्चित कराने के लिए कोटवारों की मदद ली जाएगी। इस संबंध में कलेक्टर ने आदेश जारी भी कर दिए है। कोटवारों को तीन सौ रुपए इसके लिए अतिरिक्त दिया जाएगा। कोटवार घर-घर जाकर इस संबंध में किसानों को सूचना देंगे। अतिरिक्त मानदेय कोटवारों को एक दिन का ही दिया जाएगा। कोटवारों के अलावा प्रचार प्रसार के लिए किसान मित्रों से भी सहयोग लिया जा रहा है। हाट बाजारों में भी अनाउंसमेंट के माध्यम से लोगों को ऋण माफी के लिए फॉर्म भरने की सूचना दी जा रही है।

गुजरात गए किसानों से फोन पर चर्चा

शेष रह गए किसानों में अधिकांश ऐसे हैं, जो रोजगार की तलाश में गुजरात चले गए हैं। उन्हें परिजनों के माध्यम से तथा व्यक्तिगत तौर पर अधिकारी फोन कर फॉर्म भरने के लिए कह रहे हैं। इस तरह शेष 15 प्रतिशत किसानों से फॉर्म भरने की प्रक्रिया को सुनिश्चित कराने की कवायद चल रही है।

इनका कहना है

अभी तक 85 प्रतिशत किसानों के फॉर्म भराए जा चुके हैं। शेष 15 प्रतिशत किसानों से भी समय सीमा में फॉर्म भरवाने की प्रक्रिया पूरी करने के प्रयास जारी है। हर पात्र किसान को इसका लाभ मिले, यह कोशिश की जा रही है। जेल में बंद किसानों सेे भी फॉर्म भरवा रहे हैं। प्रचार-प्रसार भी किया जा रहा है- केसी वास्केल, उपसंचालक कृषि


आंकड़े

- 43 हजार 981 किसानों के फॉर्म भरे जाने हैं

- 37 हजार 244 किसानों ने अब तक भरे फॉर्म

- 5 हजार 511 किसानों ने जमा किए गुलाबी फॉर्म

- 7 हजार से अधिक किसानों ने भरे सफेद फॉर्म

- 24 हजार 652 किसानों ने भरे हरे फॉर्म

Posted By: