आलीराजपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बखतगढ़ थाना क्षेत्र में 19 वर्षीय विवाहिता रानी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के मामले में पुलिस ने पति, ससुर, जेठ सहित आठ आरोपितों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया है। हालांकि महिला के मायका पक्ष ने आरोप लगाया था कि उसकी हत्या की गई है। पुलिस का कहना है कि पीएम रिपोर्ट और बयानों के आधार पर प्रकरण कायम किया गया है। हत्या के साक्ष्य नहीं पाए गए हैं। उधर, रानी को जबरन बाइक पर बैठाकर ले जाने का वीडियो भी वायरल हो रहा है। इसे लेकर पुलिस ने आइटी एक्ट की धारा भी लगाई है।

जानकारी अनुसार केल्दी की माल निवासी रानी हरदिया का विवाह खेरवाड़ा के रोहित पिता दिवालिया से हुआ था। यहां उसे प्रताड़ित करने पर बीते दिनों वह मायके आ गई थी। गत रविवार को वह गणेश विसर्जन समारोह में गई थी। आरोप है कि यहां से पति रोहित सहित जितेन पिता दिवालिया, सुरेश रंगसिंह, दिनेश, विदेश किरतिया, दीपला कागड़िया, मुकेश, हगरिया सहित अन्य लोग उसे जबरन बाइक पर बैठाकर ले गए। इस दौरान मारपीट की तथा कपड़े भी फाड़ दिए। इसका वीडियो भी इंटरनेट मीडिया पर सामने आया है। इसमें दिख रहा है कि आरोपित मारपीट कर रानी को जबरन बाइक पर बैठाकर ले जा रहे हैं। मायका पक्ष का कहना है मंगलवार सुबह बताया गया कि रानी का शव पेड़ पर लटका मिला है। उसने आत्महत्या कर ली। वह खुदकुशी नहीं कर सकती, उसकी हत्या की गई है। उनका दावा है कि रानी के शरीर पर चोट के निशान भी पाए गए थे। उधर, रोहित ने पुलिस को बताया कि परिवार के सभी लोग सोमवार रात को खाना खाकर सो गए थे। सुबह उठे तो रानी घर में नहीं थी। तलाश करने पर उसका शव पेड़ पर लटका मिला। थाना प्रभारी अनसिंह भाबर ने बताया कि मामले में जांच के बाद रोहित, उसके पिता दिवालिया व जेठ सहित आठ आरोपितों के खिलाफ भादवि की धारा 306, 365, 498ए सहित आइटी एक्ट का मुकदमा कायम किया है। पीएम रिपोर्ट में हैंगिंग की बात सामने आई है। आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local