आलीराजपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मोटर मालिक एवं ट्रांसपोर्ट यूनियन की बैठक नगर के समीप ग्राम लक्ष्मणी में हुई। इसमें माल परिवहन को लेकर कई फैसले लिए गए। डीजल के दिनोंदिन बढ़ते दामों को लेकर ट्रांसपोर्टरों ने फैसला लिया है कि अब से जिसका माल, उसी का हम्माल। यानी ट्रांसपोर्टर अब हम्माली का भार वहन नहीं करेंगे। माल चढ़वाने और उतरवाने वाले को ही अब श्रमिकों को इसका पारिश्रमिक देना होगा।

बैठक में यूनियन की नई कार्यकारिणी का चयन भी किया गया। इसके अनुसार अमित डोडवे उर्फ घोटू को अध्यक्ष चुना गया है। कोषाध्यक्ष शाहिद मंसूरी, सचिव मनीष मामा, मीडिया प्रभारी इमरान कुरैशी सहित सदस्यों को चुनाव किया गया है। चुनाव की घोषणा के बाद सदस्यों ने नवनियुक्त पदाधिकारियों को मिठाई खिलाई तथा बधाई दी। यूनियन पदाधिकारियों ने कहा कि देशभर में पेट्रोल, डीजल की कीमतें रिकार्ड स्तर पर पहुंच गई है। इससे ट्रक मालिक भारी आर्थिक संकट से गुजर रहे हैं। आमदनी अठन्नी और खर्चा रुपैया हो गया है। इस कारण यूनियन ने अब हम्माली का भुगतान नहीं करने का फैसला लिया है। अब से जो भी माल चढ़वाएगा अथवा उतरवाएगा उसे ही भुगतान करना होगा। इस दौरान यूनियन सदस्य मोटू भाई, शाहिद भाई, रिजवान भाई, राजा मकरानी, बब्बू भाई, प्रीतेश सर्राफ, अमजद भाई, मुकेश थेपड़िया आदि उपस्थित थे।

कोरोनाकाल ने आर्थिक कमर तोड़ी

ट्रांसपोर्टर कहते हैं कि कोरोनाकाल ने पहले ही माल परिवहन व्यवसाय करने वालों की आर्थिक कमर तोड़ दी है। लंबे समय तक वाहन खड़े रहे। अब डीजल के दाम परेशान कर रहे हैं। ऐसे में व्यवसाय करना बेहद मुश्किल भरा हो गया है। सरकार को अन्य क्षेत्रों की तरह इस सेक्टर की ओर भी ध्यान देकर राहत प्रदान करनी चाहिए। क्योंकि इस सेक्टर से लाखों परिवारों की रोजी-रोटी जुड़ी है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local