अनूपपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)।

विक्षोभ की सक्रियता समाप्त होने के बाद जिले में कडाके की ठंड पड़ रही है। दिन में चलने वाली शीतलहर लोगों को ठिठुरन पैदा कर रही है तो वहीं शाम ढलने के बाद सुबह तक गलन भरी ठंड लोगों को बेहाल कर रखी है। जिले के पुष्पराजगढ़ तहसील क्षेत्र में सबसे अधिक ठंड सितम मचाए हुए हैं। यहां गुरुवार को ग्राम जरही मे सुबह घास पर बर्फ की सफेदी नजर आई जिसे ग्रामीण देहाती भाषा में खर्रा पड़ना कहते हैं। अनूपपुर और अमरकंटक मे न्यूनतम पारा 4 डिग्री के आसपास है।

मकर संक्रांति के दिन ठंड ने लोगों को खासा परेशान कियाः पिछले दिनों इलाके से ठंड नदारद रही, सामान्य ठंड के आदी हो चुके लोगों को अचानक बढ़ी ठंड ने परेशान कर दिया है। ग्रामीण अंचल में ठंड का अधिक प्रभाव देखा जा रहा है। गुरुवार को मकर संक्रांति के दिन ठंड लोगों को खासा परेशान की। अमरकंटक में सुबह लोगों को भारी ठंड का सामना करना पड़ा किंतु दिन में तेज धूप रहने से चलने वाली शीतलहर ने काफी राहत पहुंचाई।

फसल को पहुंच रहा नुकसानः पुष्पराजगढ़ क्षेत्र में पाला भी जम रहा है। यहां ठंड से अरहर की फसल पाला का शिकार हो चुकी है। हालांकि यह ठंड गेहूं की फसल के लिए काफी फायदेमंद बताई जा रही है। गलन भरी ठंड से लोगों को दिन में भी अलाव का सहारा लेना पड़ रहा है। भारी ठंड से गेहूं के अलावा अन्य कई फसलों का नुकसान का खतरा भी बना हुआ है। वहीं बुजुर्गों और बच्चों को ठंड से बचना होगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस