अशोकनगर(नवदुनिया प्रतिनिधि)। बुधवार को एसपी आफिस के सामने एक युवक ने अपनी सुनवाई नहीं होने पर केरोसिन डालकर आग लगाने की कोशिश की। युवक ने अपने ऊपर केरोसिन उड़ेलकर जैसे ही खुद को जलाने के लिए जेब से लाइटर निकाला तो मौके पर मौजूद आरक्षक और एक मीडिया कर्मी ने उसके दोनों हाथों को पकड़ लिया। इसके बाद युवक को एसपी ने बुलाकर उसकी समस्या सुनी और उसको निराकरण का आश्वासन दिया। युवक ने मीडिया से बातचीत में आत्मदाह करने के पीछे की वजह पुलिस प्रताड़ना बताई। युवक का कहना है कि करीब 8 माह पहले उसके घर पर हुई चोरी की पुलिस ने एफाआईआर तक दर्ज नहीं की और उल्टा पड़ौसी की शिकायत पर उसके ऊपर तीन केस लगा दिए हैं। युवक ने इस मामले में जिले के पीएचई मंत्री बृजेंद्र सिंह यादव की शय पर पुलिस द्वारा केस दर्ज करने के आरोप लगाए हैं। इधर इस मामले में जब पीएचई मंत्री श्री यादव से बातचीत करने के लिए प्रयास किया गया तो उनको मोबाइल स्वीच आफ मिला। जानकारी के मुताबिक कुढ़ी घाट के पास रहने वाले गोमेश नाम के युवक ने बुधवार की दोपहर एसपी आफिस के सामने खुद के ऊपर करीब 5 लीटर केरोसिन का तेल उड़ेल लिया। इसके बाद युवक अपनी जेब से लाइटर निकाल कर आग लगाने की कोशिश कर रहा था तभी वहां मौजूद कोतवाली में पदस्थ आरक्षक कुलदीप शर्मा ने उसके दोनों हाथ पकड़ लिए। इसके बाद युवक को पकड़कर एसपी के समक्ष ले जाया गया जहां उसने आत्महत्या करने की कोशिश करने के पीछे की वजह बताई। पीड़ित ने बताया कि उसके यहां पर करीब 8 माह पहले 9 लाख रुपए की चोरी हुई थी। चोरी की घटना में एक डायरी भी मिली थी जिस पर उसके पड़ौसी का नाम लिखा था। पड़ौसी से मकान की दीवार खड़ी करने को लेकर विवाद भी चल रहा है। जब वह देहात थाना में एफआईआर दर्ज कराने पहुंचा तो उसका आवेदन ले लिया जिस पर आज तक एफआईआर दर्ज नहीं की गई है। युवक ने बताया कि उसके पड़ौसी राजा यादव और उनके साथी उसको कई बार जातिसूचक गालियां देकर अब तक तीन प्रकरण थाने में दर्ज करा चुके हैं।

मंत्री पर भी लगाए आरोप

युवक ने इस दौरान राजा यादव के पीछे पीएचई राज्यमंत्री बृजेंद्र सिंह का हाथ होना बताया। युवक ने कहा कि मंत्रीजी के कहने पर ही उसके खिलाफ झूंठे प्रकरण थाने में दर्ज किए गए हैं। इस दौरान युवक ने यहां तक कहा कि अगर अब उसकी सुनवाई नहीं होती है तो वह घर पर ही आत्मदाह करेगा। इधर मंत्रीजी पर आरोप लगाने के बाद जब इस मामले में उनसे बातचीत करने की कोशिश की गई तो उनका मोबाइल स्वीच आफ मिला।

उक्त व्यक्ति का जमीनी विवाद है। इसकी जानकारी आज ही लगी है। नपा की टीम बुलाकर विवाद की वजह पता कराई जा रही है। वहीं 7 माह निकलने के बाद युवक की शिकायत पर पुलिस ने कार्रवाई नहीं की इसको दिखवाते हैं। अगर ऐसा हुआ है तो संबंधित पर कार्रवाई की जाएगी।

- प्रदीप पटेल, एएसपी, अशोकनगर

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close