अशोकनगर (नवदुनिया प्रतिनिधि)।

नगर पालिका की प्रशासक और नवागत कलेक्टर आर उमा महेश्वरी ने शनिवार को नगर पालिका पहुंचकर शहर के विकास कार्यों की समीक्षा की। कलेक्टर ने सफाई व्यवस्था के मामले में नपा अमले पर नाराजगी व्यक्त की। इसके अलावा कर बकाया को लेकर भी वह नाराज हुईं। कलेक्टर ने सभी को निर्देश दिए कि आप लोग ऐसे बैठे नहीं रहेंगे। कर वसूली और सफाई व्यवस्था के लिए हर दिन फील्ड में निकलिए। सुबह भ्रमण कर देखिए कि कहां गंदगी है, कहां पर लोगों को पानी नहीं मिल रहा? रात में भ्रमण करके देखिए कि किन स्थानों पर रोशनी की पर्याप्त व्यवस्था नहीं है। इसके अलावा उन्होंने एक अक्टूबर से शहर के तुलसी सरोवर पार्क को फिर से खोलने के निर्देश दिए। साथ ही, शहर के चार बड़े प्रोजेक्ट की भी बारी-बारी से समीक्षा की।

इन चार प्रोजेक्ट की समीक्षा :-

1. पीएम आवास

- कलेक्टर ने पूछा कि इस प्रोजेक्ट की क्या स्थिति है, जिस पर सीएमओ ने बताया कि 3700 में से 2400 हितग्राही को इसका लाभ मिल चुका है। कलेक्टर ने कहा कि जो 1300 लोग शेष हैं, उनको भी योजना का लाभ दिलाओ। मुझे इसकी पूरी विस्तृत जानकारी बनाकर दो कि इन्हें अब तक राशि क्यों नहीं मिली?

2. तुलसी सरोवर पार्क

- कलेक्टर ने नगर पालिका के सब इंजीनियर को निर्देश दिए कि तुलसी सरोवर पर जो पार्क निर्माणाधीन है। उसकी गुणवत्ता अच्छी होना चाहिए। पार्क दूर से ही सुंदर नजर आए। यहां योगा करने की व्यवस्था करें व खुली जिम भी बनाएं। बच्चों के खेलने के लिए पार्क में खिलौने लगाएं।

3. बरखेड़ा छज्जू तालाब से पानी लाने का प्रोजेक्ट

- कलेक्टर आर उमा महेश्वरी ने इस प्रोजेक्ट के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी ली। नपा के सब इंजीनियर ने बताया कि आठ किमी लंबी पाइप लाइन डालकर अमाही तालाब में पानी लाएंगे, ताकि अगर यह सूखता है, तो हम बरखेड़ा छज्जू के तालाब से इसे भर दें, जिससे कि शहर में पानी सप्लाई हो सके। यह प्रोजेक्ट 8.37 करोड़ का है। कलेक्टर ने कहा कि इसके लिए कहां से राशि नहीं मिल पा रही है, मुझे प्रस्ताव भेजे। हम ऊपर चर्चा करेंगे।

4. निर्माणाधीन सड़कें :

- शहर में निर्माणाधीन व बनने वाली सड़कों की कलेक्टर ने लिस्ट ली। इन्होंने जल्द से जल्द निर्माण शुरू कराने के निर्देश दिए। साथ ही, जो निर्माणाधीन सड़क हैं, उनके निरीक्षण की बात कही। कलेक्टर ने कहा कि निर्माण कार्यों की गुणवत्ता में किसी भी तरह से समझौता नहीं होना चाहिए।

कलेक्टर ने पूछा- पार्क अब तक क्यों बंद है :

कलेक्टर ने नपा सीएमओ पीके सिंह से पूछा कि शहर का तुलसी सरोवर पार्क अब तक क्यों बंद है। इसे क्यों नहीं खोला गया? सीएमओ ने कहा कि वहां की मिट्टी में अभी बरसात के कारण नमी है, जिस वजह से बंद कर रखा है। कलेक्टर ने कहा कि क्या वहां पेवर्स नहीं लगे हैं? अगर लगे हैं, तो फिर मिट्टी तो खुद ही सूख जाएगी। इस पर सीएमओ कहने लगे कि पार्क में अभी सांप घूमते हैं। इस पर कलेक्टर नाराज हुईं। उन्होंने कहा कि आप इस तरह से मत डराइए। वहां साफ-सफाई का कार्य कराएं। 1 अक्टूबर से इस पार्क को आमजन के लिए खोल दिया जाए।

कलेक्टर ने यह भी दिए निर्देश :

- नगर पालिका का चार करोड़ रुपए के करीब कर बकाया है। इसकी वसूली के लिए अभियान चलाएं। हर सप्ताह इसकी समीक्षा करें।

- नामांतरण के मामले लंबित नहीं होना चाहिए। समय पर सभी का नामांतरण करो। ध्यान रहे कि मुझ तक शिकायत न आए।

- अभी डेंगू का समय है। शहर में कहीं भी पानी एकत्रित नहीं होने देना है। अस्पताल के पास पुल के नीचे जमा हो रहे पानी को साफ कराओ।

- मुख्य चौराहों पर रोशनी की व्यवस्था ठीक नहीं है। आप लोग रात में घूमकर देखो, तब स्थिति समझ आएगी। पर्याप्त रोशनी होना चाहिए।

- समीक्षा के दौरान आंकड़ा गलत था, जिस पर कहा कि ऐसा आंकड़ा रहेगा, तो कैसे समीक्षा करूंगी। इसे ठीक करके सोमवार को मुझे बताओ।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local