अशोकनगर(नवदुनिया प्रतिनिधि)। जिला मुख्यालय पर गुरुवार को आयोजित किए गए रोजगार मेले में ड्यूटी कर रहे शिक्षकों को फ्रूटी व पानी न मिलने की शिकायत करना भारी पड़ गया। जिला पंचायत सीइओ ने शुक्रवार को दो शिक्षकों को नोटिस थमा दिया है। साथ ही, इनसे तीन दिन में जवाब मांगा है। जवाब न आने पर एक पक्षीय कार्रवाई की चेतावनी भी दी है। मालूम हो, कि गुरुवार को नेहरू कॉलेज परिसर में जिला स्तरीय रोजगार मेले का आयोजन किया गया था। इसमें जिला पंचायत की ओर से शिक्षकों की भी ड्यूटी लगाई गई थी। इस दौरान निजी कंपनी के कर्मचारियों को नाश्ता, फ्रूटी, पानी आदि दिया गया और शिक्षकों को छोड़ दिया। इससे शिक्षक नाराज हो गए और उन्होंने जिला रोजगार अधिकारी के समक्ष विरोध दर्ज कराया। यहां उनकी जिला रोजगार अधिकारी से बहस भी हुई, जिसके बाद जिला रोजगार अधिकारी ने शिक्षकों से कहा कि वह उन पर कार्रवाई कराएंगे। इस बहस के वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुए। इसी के चलते शुक्रवार को जिला पंचायत सीइओ भगवान सिंह जाटव ने उच्च श्रेणी शिक्षक रघुवीर शर्मा और उच्च श्रेणी शिक्षक जगदीश सेन को नोटिस जारी कर दिए। इन नोटिस में जिक्र किया है कि रोजगार मेला में सहयोग के लिए आपकी ड्यूटी लगाई गई थी। जिला रोजगार अधिकारी ने अवगत कराया है कि आप ने मेला में सहयोग नहीं किया, बल्कि कंपनियों के प्रतिनिधियों से दुर्व्यहार किया। इसलिए तीन दिन में उपस्थित होकर अपना जवाब दें।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags